Category : कहानी

  • नया सवेरा

    नया सवेरा

     नया सवेरा —————— गंगापुर में रहनेवाला बिरजू एक सामान्य सा किसान था । अपनी थोड़ी सी खेती में मेहनत करके अपने दोनों बेटों के साथ हँसी खुशी जीवनयापन करता था । खेती से जो भी उत्पन्न...

  • विवश ममता

    विवश ममता

    नंदिनी और उसकी सासु मां, सरोजा एवं ससुर मि. गणेशन, भास्कर को एयरपोर्ट पर छोड़ने आए थे। भास्कर का इस वर्ष पीएचडी की पढ़ाई के लिए अमेरिका के एक यूनिवर्सिटी में सिलेक्शन हो गया था। सबने...



  • वह कौन- भाग 2

    वह कौन- भाग 2

    सुबह सुबह सुरेश और निर्मल थाने से छूट गए थे। उनको देखकर लग रहा था दरोगा और हवलदार ने उन दोनों की बहुत अच्छी तरह से मेहमान नवाजी की है। दोनों के गाल सूजे हुए, बाल...

  • तबाही

    तबाही

    ‘सत्य घटना पर आधारित’ आज फिर आयी वो तीन दिसंबर की रात”…हमारे जख्मों को कुरेदने !” चौंतीस वर्ष पूर्व हुए हादसे से अभी तक नही उबर पाये हैं चन्द्र और उनकी पत्नी निर्मला तीन दिसम्बर की...

  • वह कौन- भाग 1

    वह कौन- भाग 1

    छोटा बेटा नवीन अभी तक घर नहीं पहुंचा, नवीन की मां निशा का मन चिंतित है। रात के 11:00 बज गए, प्रतिदिन तो नवीन 10:00 बजे तक घर आ जाता है दुकान बंद करके। आज ऐसा...

  • मूक प्रेम

    मूक प्रेम

    “ना.. बापू, ना.. ना बेचो गंगा को। मैं नहीं बेचने दूंगी गंगा को। गंगा के बिना मैं नहीं रह सकती और ना ही गंगा मेरे बिना रह सकती है। रोज सुबह उठते ही रंभाने लगती है,...

  • बदलते रिश्ते

    बदलते रिश्ते

    रोज वही रोना-धोना, वही शिकायत रहती है विनीता को। बाई ने यह बर्तन अच्छे से नहीं धोया, चाय के कप में गंदा लगा हुआ है। चम्मच कितने गंदे तरीके से धोया है। झाड़ू लगाया है तो...

  • कामवाली

    कामवाली

    फितरत सूरज सिर पर चढ़ आया था. सुबह पाँच बजे उठने वाली शांति दाई का दरवाजा नौ बजे तक खुला नहीं था. हाँ, दरवाजा कह सकते है उन लकड़ी के पलड़ो को जिनमें फूस से भी...