Category : गीत/नवगीत

  • भोजपुरी गीत

    भोजपुरी गीत

    साँझे कोइलरिया बिहाने बोले चिरई जाओ जनि छोड़ी के बखरिया झूले तिरई……. साँझे कोइलरिया बिहाने बोले चिरई देख जुम्मन चाचा के अझुराइल खटिया होत भिनसारे ऊ उठाई लिहले लठिया गैया तुराइल जान हेराइ गईल बछवा खोजटाते...


  • गीत – हम मनुज हैं

    गीत – हम मनुज हैं

    हम मनुज हैं मनुज का सहारा बनें। डरे डूबे हुओं का किनारा बनें। नर से नारायण बनकर हम सेवा करें। दीन दुखियों के दुख को हम दूर करें। जल बन कर मरुस्थल में बिखरते रहें। उर...




  • गीत – चौकीदार चोर बतलाया

    गीत – चौकीदार चोर बतलाया

    (रफेल सौदे पर उच्चतम न्यायालय के निर्णय के बाद राहुल गांधी जी को चुनावी परिणामो के मध्य आईना दिखाती मेरी नई कविता) चौकीदार चोर बतलाया, गला फाड़ कर चिल्लाए चोर चोर कहते कहते तुम तीन प्रदेश...

  • नवगीत – झाड़ रहे हैं पल्ला

    नवगीत – झाड़ रहे हैं पल्ला

    बेच रहे वे सपने कब से मचा-मचाकर हल्ला देखो कैसा खेल चल रहा उनका खुल्लम-खुल्ला आसमान के चाँद सितारे धरती पर लायेंगे बिजली की परवाह नहीं सूरज नया उगायेंगे चाहे कोई इनको कहता फिरता रहे निठल्ला...