Category : भजन/भावगीत

  • मैय्या तेरे भवन निराले

    मैय्या तेरे भवन निराले

    मैय्या तेरे भवन निराले जयकारे-ही-जयकारे यहां आते हैं दिलवाले जयकारे-ही-जयकारे 1.कौल कंदौली जय-जयकारे माई देवा जय-जयकारे बाणगंगा के धारे जयकारे-ही-जयकारे 2.चरणपादुका जय-जयकारे आदिकुंवारी जय-जयकारे मिल जाएंगे किनारे जयकारे-ही-जयकारे 3.हाथी मत्था जय-जयकारे सांझी छत पर जय-जयकारे चम-चम...




  • श्यामा इतनी-सी आस अघा देना

    श्यामा इतनी-सी आस अघा देना

    श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं भजन मेरे जीवन को सरल बना देना, श्यामा इतनी-सी आस अघा देना- 1.मन निर्मल हो कपट से दूर रहे प्रेम-प्यार से सदा भरपूर रहे बस आनंद की सरिता बहा देना,...


  • ऐरे कान्हा मेरे

    ऐरे कान्हा मेरे

    ऐरे कान्हा मेरे, एक सहारा तेरा दूजा कोई नहीं, इस जहां में मेरा । तुझ संग प्रीत है जोड़ी मैनें तोड़े सारे बंधन, लोकलाज सब छोड़ के मैं तो बन गई तेरी जोगन, मेरे दिल पे...

  • मोहन मुरलीवाले, मोहन मुरलीवाले

    मोहन मुरलीवाले, मोहन मुरलीवाले

    श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर एक कृष्ण-भजन मनमोहन ने मोह लिया मन, बन गए सबके प्यारे आज जन्मदिन मोहन का है, बरसेंगे रस-धारे- मोहन मुरलीवाले, मोहन मुरलीवाले (2) 1.देवकी मां ने जन्म दिया, यशोमति ने उनको पाला...

  • कृष्ण भजन

    कृष्ण भजन

    -: निशदिन मोहन:- निशदिन मोहन तुझको ही पुकारूं सांझ सवेरे तेरा रस्ता निहारूं सांवरी सूरत पे जाऊं बलिहारी हारी रे बिहारी अपना दिल भी मै हारी ये दिल और जान तुझपे वारूं निशदिन मोहन…….. कब ते...

  • श्याम

    श्याम

    मन में बसी श्याम की मनमोहक काया। अधरों पे सजे बांसुरी जाने सुर क्या सजाया। भूल गई सब काम धाम मैं देखो सखी री, ह्रदय उस मोर मुकुट संग जब से लगाया। कहीं धुन मघुर बजाए...