Category : अन्य बाल साहित्य

  • आइए कविता लिखना सीखें- 5

    आइए कविता लिखना सीखें- 5

    प्रिय बच्चो, उपहार मुबारक हो, कविता लिखना सीखने के इस क्रम में हम आपको केवल कविता द्वारा अनेक विषयों की जानकारी तो दे ही रहे हैं, साथ ही कविताओं के भंडार-स्वरूप ई. बुक ‘बाल काव्य सुमन’...

  • पहेलियाँ

    पहेलियाँ

    1. इधर-उधर ये भागता बचने सबकी लात से मिलता पर कोई नहीं इससे मीठी बात से उत्तर – फुटबॉल   2. बहती रहती हर समय नहीं किसी की नाक है छूता भी कोई नहीं हर कोई...

  • आइए कविता लिखना सीखें- 4

    आइए कविता लिखना सीखें- 4

    प्रिय बच्चो, उपहार मुबारक हो, कविता लिखना सीखने के इस क्रम में हम आपको केवल कविता ही नहीं, कहानियों के भंडार का उपहार दे रहे हैं. ये चित्रमय-काव्यमय कहानियां हमने 40 साल पहले तब लिखी थीं,...

  • पहेलियाँ – 11

    पहेलियाँ – 11

    1. कभी भूनता, कभी जलाए पैर सभी के यह फिसलाए हाथ-पैर मजबूत बनाता सिर को भी ताजा कर जाए उत्तर – सरसों तेल 2. बेहद जिद्दी ये दो भाई रहते चुप, कुछ दे न सुनाई वही...

  • पहेलियां- 10

    पहेलियां- 10

    (1) तुमको तुमसे जो मिलवाता सच्ची-सच्ची बात बताता टँगकर रहता दीवारों पर टेबल पर भी यह दिख जाता उत्तर – दर्पण (2) तीन लाठियाँ बलशाली कभी नहीं रहतीं खाली बारह संख्याओं के बीच करें रात-दिन रखवाली...

  • पहेलियाँ – ९

    पहेलियाँ – ९

    (१) बदले सबके रंग मचा-मचा हुड़दंग पहले डरते लोग आते फिर सब संग उत्तर – होली (२) बंधु रजाई का अंतर है बस ये वो सबके ऊपर ये सबके नीचे उत्तर – गद्दे (३) सबके सिर...

  • आइए कविता लिखना सीखें- 1

    आइए कविता लिखना सीखें- 1

    प्रिय बच्चो, गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं, यह पत्र हम आपको गणतंत्र दिवस से कुछ दिन पहले ही लिख रहे हैं. नए साल के इस पहले महीने से हम आप सबको एक नई कला का अभ्यास...

  • पहेलियाँ – १०

    पहेलियाँ – १०

    (1) बाइस डंडों से पिटती है वह भी पूरे घंटे भर दो-दो जाल बिछाये जाते कितना लगता होगा डर उत्तर – हॉकी की गेंद (2) सबके पैरों से लिपटे धूल-कीच से भी चिपटे फिर भी करती...

  • नया साल, नई बातें

    नया साल, नई बातें

    प्रिय बच्चो, नव वर्ष 2017 की हार्दिक शुभकामनाएं,   नया साल शुरु हो चुका है और हमारे लिए प्यारा-प्यारा संदेश लाया है-   ”नए वर्ष का उगता सूरज, रंग नए ले आया है सजें सलीके से...

  • अपनी प्रतिभा को पहचानो

    अपनी प्रतिभा को पहचानो

    प्रिय बच्चो, सदा खुश रहो, आज हम आपसे आपकी प्रतिभा के बारे में कुछ बात करेंगे. हर एक में कोई-न-कोई प्रतिभा छिपी होती है. प्रतिभा का होना अलग बात है, प्रतिभा को पहचानना अलग बात है....