शिशुगीत

डॉक्टर

छोटा-सा आला दिलवादे, कोट श्वेत भी मां सिलवादे, डॉक्टर बनना है मां मुझको, कैसे बनूं जुगत बतलादे. डॉक्टर बनकर मैं लोगों की, सेवा तन-मन से कर पाऊं, ऐसी आशीष देना हे मां, मानवता की मिसाल बन जाऊं. -लीला तिवानी  

शिशुगीत

बजी

तोते जैसा पंछी प्यारा, बजी (budgie) मैं कहलाता हूं कंगनी दाना-फल मैं खाता, केला शौक से खाता हूं. पेड़ों की डालों पर रहता, जी भरकर मैं नहाता हूं, सुंदरता दी है दाता ने, उसके गुण नित गाता हूं.

शिशुगीत

लिली का फूल

लिली का मैं फूल हूं, कीप के जैसा दिखता हूं, अपनी सुगंध, सुंदरता के चर्चे, मैं नित सुनता रहता हूं. बलुई दोमट मिट्टी में मुझको, पूरा पोषण मिल पाता, लाल-गुलाबी और श्वेत रंग में, अक्सर मैं हूं पाया जाता.

बाल कविता शिशुगीत

हर दिन वैलेंटाइन डे

  एक डाल पर दो चिड़ियाएं, मस्त मगन थीं प्रेम-प्यार में, इधर नशीली वसंत की ऋतु, उधर वैलेंटाइन डे बहार में. तुम हो मेरी सोन चिरैया, तुम क्या राजकुंवर से कम हो! आओ दुनिया को सिखलाएं, प्रेम से वैलेंटाइन डे हर दिन हो.

बाल कविता शिशुगीत

टेडी डे

मम्मी आया टेडी डे, मुझको लाकर टेडी दे, उसको साथ सुलाऊंगा, किस्से-कथा सुनाऊंगा. किस्से-कथा सुना-सुनाकर, मैं वक्ता बन जाऊंगा, फिर उसका आभार मानने, टेडी डे मैं मनाऊंगा.

बाल कविता शिशुगीत

वैलेनटाइन डे (चार बाल गीत)

1. हर दिन वैलेनटाइन डे एक डाल पर दो चिड़ियाएं, मस्त मगन थीं प्रेम-प्यार में, इधर नशीली वसंत की ऋतु, उधर वैलेनटाइन डे बहार में. तुम हो मेरी सोन चिरैया, तुम क्या राजकुंवर से कम हो! आओ दुनिया को सिखलाएं, प्रेम से वैलेनटाइन डे हर दिन हो.   2. चॉकलेट डे ममी आया चॉकलेट डे, […]

शिशुगीत

पांच तोते

तोते आए पांच, दिखा रहे थे नाच, बोला तोता एक, हमें देश पर नाज. तोते आए पांच, दिखा रहे थे नाच, बोला तोता एक, देश पर न आए आंच. तोते आए पांच, दिखा रहे थे नाच, बोला तोता एक, अपने मन को जांच. तोते आए पांच, दिखा रहे थे नाच, बोला तोता एक, आतंक से […]

शिशुगीत

जनसंख्या-विस्तार की समस्या

छोटी-सी धरती पर देखो, भीड़ लगी है लोगों की, खाना-कपड़ा-पानी-बिजली, घर को तरसते लोगों की. अज्ञानी-अनपढ़ लोगों की, संख्या बढ़ती जाती है, बीमारों और बेकारों की, संख्या चैन गंवाती है.

शिशुगीत

संगीत

संगीत है जीवन की परिभाषा, जीने की एक अभिलाषा, संगीत है आत्मा, संगीत परमात्मा, मन को सुकून देकर करे अवसाद का खात्मा. संगीत जग का है वरदान, संगीत एक कला है महान, संगीत धीर भी है गंभीर भी है, संगीत प्यासे का नीर भी है, मां मुझको एक मुरली मंगा दे. मैं मोहन बन जाऊंगा, […]