Category : बाल साहित्य

  • पहेलियाँ

    पहेलियाँ

    1. मीठी-मीठी, पीली गेंद सबको खूब लुभाती फैशन के इस दौर में कई रंगों में आती उत्तर – लड्डू   2. सबकी नकल उतारनेवाला हरा-भरा यह साथी सबके सिर पर जा बैठे यह घर हो या...

  • शिशुगीत

    शिशुगीत

    1.  मुखौटे बंदर, भालू और सियार पुलिस, सिपाही, चौकीदार जो चाहें बन जाएँ आप पहन मुखौटे तो लें यार   2. चश्मा मेले में से चश्मा लाया आँखों पर जब आज चढ़ाया वाह-वाह सबने ही बोला लाल...

  • जय हिंदी, जय भारत

    जय हिंदी, जय भारत

    प्रिय बच्चो, जय हिंदी, जय भारत, कविता लिखना सीखने के इस क्रम में हम आपको अनेक विषयों पर कविता लिखना सिखाते हैं. आज हिंदी दिवस है. आप जानते हैं, कि 15 अगस्त 1947 को देश आजाद...

  • बाल कविता : गगन की सैर

    बाल कविता : गगन की सैर

    चंदा के घर जाऊंगा किसी को नही ले जाऊंगा खूब मजे उड़ाऊंगा गगन घूमके आऊंगा चंदा संग सो जाऊंगा सूरज संग उठ जाऊंगा तारों संग खुशी मनाऊंगा फिर घूम धरा पर आऊंगा. — भारत विनय

  • छूमन्तर मैं कहूँ…

    छूमन्तर मैं कहूँ…

      छूमन्तर मैं कहूँ और फिर, जो चाहूँ बन जाऊँ। काश, कभी पाशा अंकल सा, जादू मैं कर पाऊँ।   हाथी को मैं कर दूँ गायब, चींटी उसे बनाऊँ। मछली में दो पंख लगाकर, नभ में...

  • बालगीत : तितली

    बालगीत : तितली

    बालदर्शन मासिक कानपुर मे नवम्बर 1991 में छपा प्रथम बालगीत फूलों पर मंडराती तितली चंचल पंख हिलाती तितली डाल-डाल पर फूल-फूल पर है देखो इठलाती तितली फूलों का मकरन्द चूसकर चंचल पंख हिलाती तितली रंग भरे...


  • बाल कविता – चुन्नू मुन्नू

    बाल कविता – चुन्नू मुन्नू

    चुन्नू मुन्नू पढ़ने जाते रोज़ रोज़ वे उधम मचाते मम्मी पापा जब समझाते सुन कर भूल दुबारा जाते एक दिन एक सिपाही आया मुन्नू को तब बहुत डराया चुन्नू उससे अब घबराया उसने फिर न उधम मचाया — भारत विनय

  • गणेशोत्सव मंगलमय हो

    गणेशोत्सव मंगलमय हो

    प्रिय बच्चो, सदा खुश रहो, कविता लिखना सीखने के इस क्रम में हम आपको केवल कविता द्वारा अनेक विषयों पर कविता लिखना सिखाते हैं. आज गणेश चतुर्थी है. आज से 5 सितंबर तक गणेशोत्सव मनाया जाएगा....

  • पहेलियाँ

    पहेलियाँ

    (1) चीनी के बोरे को लूटे धैर्य न थोड़ा इसका टूटे काली, छोटी ये काटे यदि आह-आह मुँह से तब फूटे उत्तर – चींटी   (2) उड़ती लेकिन नहीं ये चिड़िया आफत की छोटी सी पुड़िया...