ब्लॉग/परिचर्चा

रोड शो- 13 : बातें प्रकाश की

आज बातें प्रकाश की करते हैं. प्रकाश एक ऐसा पदार्थ है, जिसकी मदद से हम वस्तुओं को देख पाते हैं। यह असंख्य छोटे-छोटे ऊर्जा कणों ‘फोटॉन से मिलकर बना होता है। 1. प्रकाश हमेशा सीधी रेखा में चलता है। 2. प्रकाश अपने स्रोत से एक साथ सभी दिशाओं में निकलता है। 3. यह जब किसी […]

ब्लॉग/परिचर्चा

यादों के झरोखे से- 26

(राजकुमार कांदु भाई के जन्मदिन पर विशेष) राजकुमार कांदु भाई की 5 सदाबहार कविताएं 1.वक्त ऐ वक्त नहीं तू क्यों थकता? हरदम ही चलता रहता है, दम ले-ले घड़ी भर रुक कर तू, मत सोच कौन क्या कहता है? दिन भर चल-चलकर सूरज भी, जब शाम ढले थक जाता है, फिर दूर कहीं वह पश्चिम […]

ब्लॉग/परिचर्चा

लीला तिवानी जी – एक विलक्षण व्यक्तित्व

आज 10 सितम्बर है । हर तारीख इतिहास में एक विशेष महत्व रखती है । 10 सितम्बर के साथ भी ऐसा ही है । 10 सितम्बर को ही प्रसिद्ध स्वतन्त्रता सेनानी और वरिष्ठ भारतीय राजनेता पंडित गोविन्द बल्लभ पन्त जी का भी जन्मदिन है । वे उत्तर प्रदेश राज्य के प्रथम मुख्य मन्त्री और भारत […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म ब्लॉग/परिचर्चा

श्रावणी का वैदिक स्वरूप

श्रावण माह अज्ञानियों के लिए ज्ञान का संदेशवाहक बनकर आता है और जनसामान्य को कल्याणपथ पर चलने की ओर प्रेरित करता है। गर्मी के बाद जब वर्षा होती है, तो मानव चित्त वातावरण के अनुकूल होने से शान्त रहता है तथा मन प्रसन्न रहता है। श्रावणी का उत्सव इसी वर्षा के साथ आता है और […]

ब्लॉग/परिचर्चा

सदाबहार काव्यालय: तीसरा संकलन- 3

छठी का दूध याद दिलाएंगे (कविता) शान्ति-दीप की ज्वाला एक बार फिर डबडबाई है मेरे प्यारे भारत देश पर कोई बुरी नजर छाई है पड़ोसी के मन में नीयत दुश्मनी की आई है लालच से देखो कितना डोल रहा है उसका मन देख मेरे भारत की उन्नति ईर्ष्या से जल रहा है तन शांति-दूत भारत […]

ब्लॉग/परिचर्चा

एक और सालगिरह की बधाई: ज्ञान बांटने वाले सुदर्शन भाई

सबसे पहले सुदर्शन भाई को सालगिरह की बधाई. आपको बता दें, कि आज सुदर्शन भाई के जन्मदिन की सालगिरह नहीं है और न ही उनके विवाह की सालगिरह है! आज सुदर्शन भाई के अपना ब्लॉग पर पदार्पण की सालगिरह है. आज के ही दिन दो साल पहले सुदर्शन भाई ने अपना ब्लॉग पर दस्तक दी […]

ब्लॉग/परिचर्चा

सदाबहार काव्यालय- 3: एक परिप्रेक्ष्य

लीजिए, सदाबहार काव्यालय- 3 का सुखद समारोह शुरु होने जा रहा है. सदाबहार काव्यालय- 1 शुरु करने से पहले हमने आपको ”काव्यालय की अविस्मरणीय सैर” करवाई थी. उससे सदाबहार काव्यालय- 1 का सुखद समारोह शुरु हो गया था. फिर आया ”सदाबहार काव्यालय: एक पुनरावृत्ति” और प्रारंभ हो गया सदाबहार काव्यालय- 2 का सुहाना सफर. यह […]

ब्लॉग/परिचर्चा

आओ शायरी सीखें – आर. एस. बग्गा जी

आर. एस. बग्गा जी का नाम शायरी एवं गजल के क्षेत्र में आज किसी परिचय का मोहताज नही, और मेरी कलम में इतनी ताकत भी नही कि उनके बारे में लिख सकूं। उनके महान व्यक्तित्व को कलमबद्ध करने कें लिये मेरी ये अल्पमति पर्याप्त नही। फिर भी साहस करके कुछ शब्दों के माध्यम से आप […]

ब्लॉग/परिचर्चा

यादों के झरोखे से- 23

काव्यालय की अविस्मरणीय सैर December 3, 2017, 4:02 PM IST लीला तिवानी in रसलीला | देश-दुनिया आइए आज आपको काव्यालय की सैर पर ले चलते हैं. आप सोच रहे होंगे, कि हमने सचिवालय, मंत्रालय, पुस्तकालय, वाचनालय तो देखा-जाना-सुना है, इनका अर्थ भी जाना है, अब ये काव्यालय कौन सी जगह हो गई? आप ठीक कह रहे हैं, काव्यालय की सैर भी हो […]