पर्यावरण

हमारी पृथ्वी पर जीवन कैसे आया ? सुलझती गुत्थी !

‘हमारी पृथ्वी पर जीवन कैसे आया ?’ यह बहुत ही गूढ़ प्रश्न है और उसका उत्तर पाना उतना ही जटिल भी है। प्रश्न है कि क्या पृथ्वी पर जीवन के लिए जरूरी तत्व पहले से उपलब्ध थे, जिससे इस धरती पर ही प्रारम्भिक या आदिम जीवों की उत्पत्ति हुई या वे सूदूर अंतरिक्ष के किसी […]

पर्यावरण

बेजुबान पशु पक्षियों से मैत्री कर उनका कल्याण करना सबसे बड़ा धर्म

भोपाल – भारतीय संवेदनशीलता सदियों से जग प्रसिद्ध है। यह गुण भारत माता की मिट्टी में ही समाया हुआ है यह संवेदनशीलता का भाव केवल मानव जाति तक ही सीमित नहीं है अपितु भारतीय संवेदनशीलता बेजुबान पशु पक्षियों जानवरों के प्रति भी कूट-कूट कर भरी है। क्योंकि भारत आदि अनादि काल से ही एक आध्यात्मिकता […]

पर्यावरण

शासकीय परियोजना- आक्रोशित हाथियों को काबू करने मधुमक्खियां भारी

भारत सदियों से प्राकृतिक खजाने,धरोहर, संस्कृति प्राकृतिक संसाधनों, जैविक विविधताओं का अभूतपूर्व भंडार, आध्यात्मिक विश्वास भाव, जीवो जंतुओं का अभूतपूर्व स्थल रहा है। जहां जीव जंतुओं के प्रति अभूतपूर्व संवेदनशीलता कुछ अपवादों को छोड़कर,हरनागरिक में कूट-कूट कर भरी है।मूक जीव जंतुओं जानवरों की सुरक्षा में शासन, अनेक संगठन संवेदनशीलता से काम कर रहे हैं तथा […]

पर्यावरण

दुनियां की सबसे बड़ा इंडस्ट्रियल डिजास्टर

भोपाल गैस त्रासदी के बारे में आज हम भूल चुके हैं क्या?१९६९ में आई कार्बाइड इंडिया लिमिटेड नामक अमेरिकन  कंपनी ने शुरू किया था कीटनाशक का उत्पादन शुरू किया था भोपाल में।शेरनोबिल न्यूक्लियर डिजास्टर में रूस में भी हजारों लोग मारे गए थे।लेकिन भोपाल गैस काण्ड में २और ३ दिसंबर की रात , आधी रात […]

पर्यावरण

बेमौत मरती नदियां , त्रास सहेंगी सदियां ।

छठ पर्व पर एक भयावह तस्वीर यमुना नदी दिल्ली की सामने आयी, जिसमें सफेद झाग से स्नान वा अर्क देते श्रद्धालु दिखे। यह बात तो जगजाहिर है कि समूचे विश्व में हिन्दुस्तान ही एक ऐसा देश है जहां नदियों को माँ की उपमा दी गई है, पवित्र माना गया है। लेकिन वर्तमान समय में जितनी दुर्दशा […]

पर्यावरण

गंभीर होती वायु प्रदूषण की समस्या

पहले से ही प्रदूषण की खतरनाक स्थिति के मद्देनजर पटाखों पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों की धज्जियां उड़ाते हुए दिल्ली-एनसीआर में इस साल भी जिस प्रकार लोगों ने जमकर पटाखे चलाए, उससे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) कई इलाकों में गंभीर स्तर से भी अधिक 480 तक पहुंच गया। पटाखों के कारण दीवाली के […]

पर्यावरण

मछलियों की विभिन्न प्रजाति रोजगार में लाभदायक पहल है

गुजरात में मछुआरे के हाथ लगी डेढ़ करोड की मछलियां ख़बर समाचार पत्रों में पढ़ने को आई ।वणाकवारा समुद्री क्षेत्र में क्रोकर मछली निर्यात की जाती चीन,हांगकांग,ताइवान,आदि देशों में काफी मांग है।जो मछली व्यापार से जुड़े लोगों के लिए लाभदायक है।देखा जाए तो नदी तालाबों में मछली के अंडे देने का प्रजनन काल जुलाई,अगस्त  में […]

पर्यावरण

सिंगल यूज़ प्लास्टिक के उपयोग से बचने की दिशा में प्रभावी माध्यम

ज़लवायु परिवर्तन के मद्देनजर पृथ्वी की सुरक्षात्मक कार्यवाही में से एक मानवीय जीवनशैली में परिवर्तन और सिंगल यूज़ प्लास्टिक त्यागना महत्वपूर्ण कदम – एड किशन भावनानी गोंदिया – वैश्विक स्तर पर ज़लवायु परिवर्तन के गंभीर स्थिति के दुष्परिणाम हम वैश्विक स्तर पर प्राकृतिक आपदाओं के रूप में हम देख रहे हैं। क्योंकि यहसमस्या पूरे विश्व […]

पर्यावरण

बीमारियों की सौगात परोस रहा है वायु प्रदूषण

दुनियाभर में वायु प्रदूषण के खतरे तेजी से बढ़ रहे हैं। वायु प्रदूषण लोगों के स्वास्थ्य को बुरी तरह से प्रभावित कर रहा है, यहां तक कि लोगों की आयु घटने का भी एक बड़ा कारण बनकर उभर रहा है। हाल ही में बेल्जियम में हुए एक अध्ययन में शोधकर्ता इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं […]

पर्यावरण

पक्षियों का भी ध्यान रखना होगा

कई लोग बच्चों के सामने गाली, अपशब्दों का प्रयोग करते है। वे ये नही सोचते इसका असर बच्चों के अलावा पक्षियों पर भी होता है। कुछ पक्षी इंसानो की बोली की हूबहू बोली बोलने में माहिर होते ही वे वैसी ही नकल करते है। पक्षियों को पालने के शौकीनों को ये ध्यान रखना आवश्यक है […]