Category : धर्म-संस्कृति-अध्यात्म


  • लाजवाब मशीन: ‘ऐनी टाइम मोदक’

    लाजवाब मशीन: ‘ऐनी टाइम मोदक’

    हमें बहुत-सी चीजें लाजवाब लगती हैं. कभी हमें कोई खाने की चीज, कभी पहनने-ओढ़ने की चीज, कभी सजावट की चीज या फिर मनोरंजन की चीज लाजवाब लगती है. हमें अपना देश, अपनी भाषा, अपनी सभ्यता, अपनी...



  • तैंतीस कोटि देव

    तैंतीस कोटि देव

    भारतवर्ष में देवों का वर्णन बहुत रोचक है | देवों की संख्या तैंतीस करोड़ बतायी जाती है और इसमें नदी , पेड़ , पर्वत , पशु और पक्षी भी सम्मिलित कर लिये गये है | ऐसी...

  • उत्सव के रंग त्योहारों के संग

    उत्सव के रंग त्योहारों के संग

    भारत के हर प्रांत में त्योहारों का अपना महत्व है और सब ऐसे मनायें जाते हैं जैसे कोई उत्सव हो रहा हो। सभी अपने – अपने तरीक़े से इन त्योहारों को मनाते हैं। अच्छा है कुछ...

  • कृष्ण-क्रांति

    कृष्ण-क्रांति

    अधर्मियों, आतंकवादियों, समाजघातकों, देशद्रोहियों और भ्रष्टाचारियों को समाप्त करने के उद्देश्य से धराधाम पर अवतरित हुए योगेश्वर श्रीकृष्ण जन्म से लेकर अंत तक अपने निर्धारित उद्देश्य के लिए सक्रिय रहे। वे एक आदर्श क्रांतिकारी थे। कृष्ण के जीवन की...



  • श्रावणी उपाकर्म विमर्श

    श्रावणी उपाकर्म विमर्श

    भारतवर्ष पर्वों का देश है, नित नूतन पर्वों का उल्लास यहॉं मनाया जाता है। भारतीय पर्व परम्परा में सर्वोत्तम व उत्कृष्ट पर्व का स्थान श्रावणी उपाकर्म को दिया जाता है। क्योंकि यह लोगों को ज्ञान से...