Category : धर्म-संस्कृति-अध्यात्म




  • होली आई रे

    होली आई रे

    ‘धनि -धनि भाग हमार फागुनवा कुछ बोलली’ भोजपुरी गीत की ये धुन हमारे पड़ते ही फागुन में कुछ और फगुनाहट घोलकर हरियाते बासंती बयार संग होली के रंग की मादकता घोल जाता है | ऋतुराज वसंत...

  • शिव और शक्ति का दिन-महाशिवरात्रि

    शिव और शक्ति का दिन-महाशिवरात्रि

    महाशिवरात्रि का त्यौहार हिंदू धर्म में एक विशेष महत्व रखता है। वर्ष में आने वाली 12 शिवरात्रि में से फाल्गुन मास में आने वाली शिवरात्रि का विशेष महत्व है। इसी के चलते इसे महाशिवरात्रि कहा जाता...

  • विशेष सदाबहार कैलेंडर-129

    विशेष सदाबहार कैलेंडर-129

    1.एक प्यारा-सा दिल, जो कभी नफरत नहीं करता, एक प्यारी-सी मुस्कान, जो कभी फीकी नहीं पड़ती, एक अहसास, जो कभी दुःख नहीं देता, दोस्ती एक ऐसा रिश्ता, जो कभी खत्म नहीं होता. 2.छोटी-छोटी खुशियां ही तो...


  • बौद्धिकता के नाम पर वैचारिक प्रदूषण

    बौद्धिकता के नाम पर वैचारिक प्रदूषण

    हमारे देश में एक विशेष जमात हमारी परम्पराओं और धार्मिक मान्यताओं पर निरंतर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर कुठाराघात करने में लगी रहती हैं। इस वर्ग विशेष के अनेक नाम हैं जैसे मानवाधिकार कार्यकर्ता, एक्टिविस्ट,सिविल...