Category : धर्म-संस्कृति-अध्यात्म


  • हमारी आयु कितनी है?

    ओ३म् हम विगत अनेक वर्षों से इस संसार में रह रहे हैं। सभी मनुष्यों की अपनी-अपनी जन्म तिथी है। यह जन्म तिथि किसकी है? क्या यह हमारी आत्मा की जन्म तिहथ है या हमारे शरीर की...

  • अध्यात्म में है जीवन का सुख

    अध्यात्म में है जीवन का सुख

    यह जगत पांच भौतिक तत्वों द्वारा बना है। इन तत्वों में आकाश सबसे सूक्ष्म है। इसी कारण आकाश अपने अस्तित्व को सिर्फ ध्वनि द्वारा ही सिद्ध करता है। इस आकाश तत्व को समझने के लिए या...




  • वेद में वर्णित ईश्वर को जानिये!

    वेद में वर्णित ईश्वर को जानिये!

    एक नवबौद्ध अम्बेडकरवादी ने एक चित्र को बड़े जोश में आकर सोशल मीडिया में प्रचारित किया, जिसमें कूड़े के ढेर में पड़ी हिन्दू देवी देवताओं की मूर्तियों और चित्रों पर कुत्तो को पिशाब करते हुए दिखाया...

  • “कामधेनु गौमाता सुरभि”

    “कामधेनु गौमाता सुरभि”

    एक ऐसा दिव्य स्थान, ऐसा दिव्य मंदिर, दिव्य तीर्थ देखना हो तो बस, वह गौमाता से बढ़कर कोई नहीं है .सनातनधर्मी हिंदुओं के लिए न कोई देव स्थान है, न कोई जप-तप है, न ही कोई...

  • अरुणाचली जनजातियों की मृत्यु विषयक अवधारणा

    अरुणाचली जनजातियों की मृत्यु विषयक अवधारणा

    अरुणाचल प्रदेश अपने नैसर्गिक सौंदर्य,सदाबहार घाटियों, वनाच्छादित पर्वतों, बहुरंगी संस्कृति, समृद्ध विरासत, बहुजातीय समाज, भाषायी वैविध्य एवं नयनाभिराम वन्य-प्राणियों के कारण देश में विशिष्टय स्थान रखता है । अनेक नदियों एवं झरनों से अभिसिंचित अरुणाचल की...

  • सावन मनभावन महीना

    सावन मनभावन महीना

    सावन का महीना बहुत पावन महीना कहलाता है। चारों ओर हरियाली और बारिश की हल्की -हल्की फुँआरें मन में एक नई उमंग पैदा करती हैं क्योंकि हमें भयंकर ताप से मुक्ति मिलती है। चारों ओर से...