इतिहास

श्री परशुराम जी, अमृतसर में आर्य समाज के पुरोधा

सन 1900 के आसपास शामचौरासी, जिला होशियारपुर से पंडित परशुराम जी परिवार सहित आकर अमृतसर में रहने लगे।उस समय भारत वर्ष में भंयकर अकाल का दौर था। अंग्रेजों का शासन था और लोगों को अन्न आदि राशन कार्ड पर ही मिलता था, पंजाब में अधिक अस्थिरता नहीं थी। उस समय पंडित जी की आयु तीस […]

इतिहास

मेधावी छात्र रजिन्नर बाबू

एक छात्र, जो जबतक पढ़ते रहा…. प्रथम कक्षा से लेकर यूनिवर्सिटी और ‘डॉक्टरेट’ की उपाधि तक न केवल प्रथम श्रेणियोत्तीर्णरहे, अपितु जिन – जिन संस्थानों से अध्ययन किया, ‘टॉप मोस्ट’ रहे । ‘भोजपुरी’ टोन का उस छात्र की पकड़ कालांतर में कई भाषाओं में हो गई । कहा जाता है, उस छात्र के बारे में […]

इतिहास

रीढ़, हृदय और आत्मा

दादा साहब फाल्के पुरस्कार सहित पद्म भूषण से सम्मानित 79 वर्षीय महान वॉलीवुड अभिनेता शशि कपूर कुछ वर्ष पहले 4 दिसम्बर को इस पार्थव्य दुनिया से कूच कर गये। हिंदी फिल्म ‘दीवार’ में 74 वर्षीय महान शताब्दी अभिनेता अमिताभ बच्चन उनके बड़े भाई की भूमिका में थे, जब श्री बच्चन ने कहा– ‘मेरे पास गाड़ी […]

इतिहास

संविधान दिवस और डॉ. भीमराव रामजी अंबेडकर

भारत के पहले अनुसूचित जाति के युवक, जिन्होंने मैट्रिक से लेकर Ph D, D Litt तक उपाधि प्राप्त किये । अर्थशास्त्र में Ph D करनेवाले पहले एशियाई डॉ0 भीमराव सकपाल अम्बेडकर ने शनै: – शनै: अपनी प्रतिभा को पहले दुनिया में, फिर देश में स्थापित किये । भारत में रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना […]

इतिहास

तनाव और जीवन

तनावों का जीवन में अलग ही है रोल , तनावों के बिना फेल है जीवन का भूगोल। तनाव है तो जीते हैं बिना तनाव भला आप क्या कर पाते हैं? तनावों के बिना दिन की शुरुआत अधूरी सी लगती है, तनावों के बीच ही तो कर्मक्षेत्र जरूरी सी लगती है, तनाव न हो तो सब […]

इतिहास

मृदुला सिन्हा – एक महान इंसान

राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्वअध्यक्ष,सुप्रसिध्द साहित्यकार व गोवा की वर्तमान राज्यपाल मृदुला सिन्हा जी जितनी सशक्त लेखिका हैं,जितनी मानवाधिकारवादी हैं,उतनी ही श्रेष्ठ वे संस्कृति प्रेमी भी हैं ! सरल,विनम्र,व्यवहारकुशल,मिलनसार,निरभिमानी मृदुला जी वास्तविक अंशों में राष्ट्रवादी हैं ! वे अत्यंत सहज हैं व सामाजिक सरोकारों व मानवीय मूल्यों से अनुप्राणित हैं !द्श,समाज,संस्कार व राष्ट्र उनकी आत्मा […]

इतिहास

अमर अभिमन्यु ने चक्रव्यूह को किया था छिन्न-भिन्न

प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम के राष्ट्रवादी महानायक बाबू वीर कुँवर सिंह किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। 26 अप्रैल 1858 को आजाद जगदीशपुर में उन्होंने अंतिम साँस ली। उनके दोनों ही सपूत उत्तर प्रदेश की पावन भूमि पर अंग्रेजों को मुँह तोड़ जवाब देते हुए कुर्बान हो गए थे। उसके बाद की कहानी पर इतिहास प्रायः […]

इतिहास

दो भिन्न जन्मतिथि और पुण्यतिथि

महान वैज्ञानिक सर जगदीशचंद्र बसु की पुण्यतिथि पर सादर श्रद्धांजलि यानी 23 नवम्बर को महान भारतीय वैज्ञानिक और प्रसिद्ध विज्ञान लेखक सर जगदीशचंद्र बसु की पुण्यतिथि है, तो 30 नवम्बर को जन्मदिवस ! 1917 में जगदीशचंद्र बसु को ‘Knight’ (सर) की उपाधि प्रदान की गई तथा शीघ्र ही भौतिक तथा जीव विज्ञान के लिए रॉयल […]

इतिहास

अमर शहीदों को नमन 

देश के अलग अलग प्रान्तों में जन्मे वीरों ने अपनी अपनी भूमिका निभाई थी।कई वीरों के नाम है।उन नामों में एक जानकारी के मुताबिक ऐसे नाम भी है जो बहुत कम पढ़ने में आए है।बहुत से नामों मे से जो मालूम है वो इस प्रकार से है।मालवा -निमाड़ क्षेत्र के वीरों की अमर गाथा जिन्होंने […]

इतिहास

22 दिसम्बर का महत्व

अंग्रेजी तारीख के अनुसार 22 दिसम्बर को गुरु गोविंद सिंह साहब का जन्मदिवस है, किन्तु विक्रमी संवत के लिहाज से इस वर्ष यह तिथि 2 बार पड़ा है । पौष शुक्ल सप्तमी के अनुसार 5 जनवरी 2017 को और 25 दिसम्बर 2017 को। भारत में ऑफिशियली और सिख विक्रमी संवत के अनुसार गुरु गोविंद सिंह […]