इतिहास लेख

शोषित-वंचितों के मसीहा थे ‘कर्पूरी ठाकुर’

सिर्फ पिछड़े वर्ग के नहीं, हर धर्म-जाति में प्रताड़ित शोषित-वंचित लोगों के मसीहा थे- कर्पूरी ठाकुर । बिहार के दो बार मुख्यमंत्री बने और जनमानस में छा गए । वे पार्टी-पॉलिटिक्स से ऊपर की चीज हो गए, क्योंकि वे मानवता से प्यार करने लगे थे । तभी तो उन्हें ‘जननायक’ कहा जाने लगा था । […]

इतिहास

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस और भारतरत्न डॉ. विधानचंद्र राय

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस यानी नेशनल डॉक्टर्स डे पर देश के चिकित्सकों को सादर अभिनंदन है । दरअसल पटना, बिहार के बाँकीपुर मोहल्ले में जन्मे भारतरत्न डॉ. विधानचन्द्र रॉय पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री थे, वे ताउम्र मुख्यमंत्री रहे, वो भी 14 वर्ष तक और उन्होंने डॉक्टरी शिक्षा यानी LMP और MD की डिग्री तब लिए, […]

इतिहास

वक़्त बोल रहा है …

सब की बोलती बंद है इन दिनों, वक़्त बोल रहा है .. बड़ी ही ख़ामोशी से कोई बहस नहीं, ना ही कोई, सुनवाई होती है एक इशारा होता है और पूरी क़ायनात उस पर अमल करती है!!! … सब तैयार हैं कमर कसकर, बादल, बिजली, बरखा के साथ कुछ ऐसे वायरस भी जिनका इलाज़, सिर्फ़ […]

इतिहास लेख

हिंदी फ़िल्म ‘फिल्लौरी’ के नायक की शहादत गाथा भी वह !

देश के ऐसे युवाओं को देश के प्रति ज़ज़्बा पैदा करने के लिए 13 अप्रैल 1919 की ऐतिहासिक व मर्मभेदी घटना को आत्मसात करने चाहिए । इस तारीख को यानी वैशाखी पर्व के दिन अमृतसर में जलियांवाला बाग में रॉलेट एक्ट का विरोध करने के लिए एक सभा हो रही थी । इस सभा में […]

इतिहास लेख

सिख धर्म के 10 वें गुरु के जन्मदिवस ?

माननीय विधान पार्षद डॉ. दिलीप कुमार जायसवाल ने अंग्रेजी तारीख का हवाला देते हुए 22 दिसम्बर को गुरु गोविंद सिंह साहब का जन्मदिवस बताया है, किन्तु सिख धर्म के 10 वें गुरु के जन्मदिवस को भारत सरकार, पंजाब सरकार और बिहार सरकार ने विक्रमी संवत के अनुसार माना है, जो कि पौष शुक्ल सप्तमी है […]

इतिहास लेख

देश-दुनिया में विशिष्ट है बिहार की ऐतिहासिक संस्कृति

भारतवर्ष में बिहार एक राज्य है । ‘बिहार’ शब्द ‘विहार’ से अंतर्निहित हो न केवल अपनेपन का कारण है, अपितु यह बहुचर्चित शब्द पर-बोध लिए भी संसारवालों को गुदगुदाते हैं और फिर ‘बिहार’ से निःसृत अपत्यवाची-संज्ञा ‘बिहारी’ दुनिया की एकमात्र अस्मिता – संरक्षित ‘संस्कृति’ लिए आज भी चिरनीत हैं । बिहार सभ्यता-कालों से सनातन हिन्दू […]

इतिहास

निजी स्कूलों को नियंत्रित कर सरकार शिक्षकों की भर्ती करे

निजी स्कूलों को नियंत्रित कर सरकार शिक्षकों की भर्ती करे  ★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★ ( प्राइवेट पंजों से निकल राज्य के अधीन हो पूरी शिक्षा व्यवस्था, निजी स्कूलों के नेटवर्क पर लगाम लगानी होगी ) ✍ प्रियंका सौरभ  दरअसल सरकारी स्कूल फेल नहीं हुए हैं बल्कि यह इसे चलाने वाली सरकारों, नौकरशाहों और नेताओं का फेलियर है. सरकारी स्कूल […]

इतिहास

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना गरीबों का सहारा है

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना गरीबों का सहारा है ———————————————- प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी और माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूशन द्वारा छोटे और मध्यम कारोबारियों को बिना किसी सिक्योरिटी के कर्ज देने का प्रावधान है. यह कर्ज नॉन एग्रीकल्चरल सेक्टर में छोटे कारोबार को बढ़ावा देते हुए रोजगार बढ़ाने के लिए दिया जाता है.हाल […]

इतिहास

अब साइबर अपराध देश के सामने नई चुनौती

–प्रियंका सौरभ हम जितनी तेज़ी से डिजिटल दुनिया की ओर बढ़ रहे हैं, उतनी ही तेज़ी से साइबर अपराध की संख्या में वृद्धि हो रही है। कोरोना के समय में ऑस्ट्रेलिया की संचार प्रणाली पर हुआ साइबर हमला है, संचार प्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगता है। इसी बीच अब साइबर विशेषज्ञों ने भारत में भी […]

इतिहास गीतिका/ग़ज़ल

ग़ज़ल-घर के जैसा ठौर कहाँ है

करके देखा गौर, कहाँ है?तुझ सा कोई और कहाँ है? क्या फल की उम्मीद करें हम,इन आमों में बौर कहाँ है? हाथ मिलाना भूल गये सब,अब पहले सा दौर कहाँ है? ख़ुद को वो चाहे जो कह ले,लेकिन अब सिरमौर कहाँ है? जो माँ के हाथों मिलता था,रोटी का वो कौर कहाँ है? जग में […]