Category : लेख

  • आत्मा- एक मिथ्या

    आत्मा- एक मिथ्या

    आत्मा का अस्तित्व हर धर्म में स्वीकार गया है , पत्न्तु जिस तरह से सभी धर्मो में मिथ्या रूप से ईश्वर की कल्पना गढ़ ली थी उसी प्रकार आत्मा की भी। दरसल आत्मा नाम की कोई...


  • लेख : बाल -मजदूर

    लेख : बाल -मजदूर

    बालश्रम या बाल मजदूरी एक सामाजिक बुराई है , जो आज की भयंकर त्रासदी बनते जा रही है | इससे बच्चों का ही नहीं बल्कि देश का विकास भी प्रभावित होता है | बालमजदूरी कई बार परिवार...





  • किस ऑफ़ लव

    “किस ऑफ़ लव” “वेश्यावृति को क़ानूनी मान्यता” “फिल्मों,इंटरनेट आदि पर अश्लीलता” “लिव-इन-रिलेशनशिप” “रेव पार्टी” “समलेंगिकता आदि को समर्थन ” “हिन्दू देवी देवताओं के बारे में अनैतिक टिप्पणी” यह सभी व्यभिचारी सोच के कुछ रूप हैं जिनका...

  • कहूंगा कम, काम ज्यादा करूंगा…

    कहूंगा कम, काम ज्यादा करूंगा…

    प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद सबसे पहले उन्होंने लालपुर में बुनकरों के लिए ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर ऐंड क्राफ्ट्स म्यूजियम की आधारशिला रखी। इस मौके...