राजनीति

गणतन्त्र के सात दशक

 परिवर्तन का जोश भरा था, कुर्बानी के तेवर में। सब कुछ हमने लुटा दिया था, आजादी के जवर में।। हम खुशनसीब हैं कि इस वर्ष 26 जनवरी को 71वाँ गणतन्त्र दिवस मना रहे हैं। 15 अगस्त सन् 1947 को पायी हुई आजादी कानूनी रूप से इसी दिन पूर्णता को प्राप्त हुई थी। अपना राष्ट्रगान, अपनी […]

इतिहास राजनीति

युवा दिवस और नागरिक संशोधन कानून ( CAA )

१२ जनवरी १८६३ को स्वामी विवेकानंद का जन्म कोलकाता में हुआ उनके जन्मदिवस को युवा दिवस के रूप में पुरे देश में मनाया जाता है . स्वामी विवेकानंद को दुनिया विश्व शिक्षक ( Universal Teacher ) के रूप में भी जानती है . १८९३ में शिकागो में विश्व धर्म महासभा में दिए गए उनके भाषणों […]

राजनीति

संस्कृति संरक्षण और शिक्षा

यह कल्पना करना ही भयावह लगता है कि अगर शिक्षा न होती तो क्या होता? अगर शिक्षा न होती तो प्राचीनतम् विचारों का क्रमबद्ध संकलन होना सम्भव नहीं होता। गुरुकुल या विद्यापीठ अथवा आज के अत्याधुनिक विद्यालय नहीं होते। समाजीकरण की सतत् प्रक्रिया सुचारु नहीं हो पाती। हमारी अनमोल धरोहर जिसे हम आज भी गर्व […]

राजनीति

परीक्षा : उम्मीदवार की या जनता की

जनतन्त्र जनतामय होता है। जनता के बीच से जनता द्वारा चुना हुआ प्रतिनिधि जननायक, जननेता, जनसेवक या ऐसे ही बहुतेरे विशेषणों से सुशोभित होता है। ग्राम पंचायत से संसद तक निर्वाचन की प्रक्रिया ही आधारभूत है। संविधान द्वारा निर्धारित मौलिक अर्हताओं को पूरा करके किसी भी एक पद के लिए दर्जनों उम्मीदवार मतदाताओं के समक्ष […]

राजनीति

पाकिस्तान में ननकाना साहिब पर हमला क्यूँ?

ननकाना साहब पाकिस्तान के प्रांत में स्थित एक शहर हैं जिसका वर्तमान नाम सिख धर्म के गुरु! गुरु नानक देव जी के नाम पर पड़ा जिसका पुराना नाम हैं ‘राय– भोई– दी तलवड़ी’ था यह लाहौर से 80 किलोमीटर दक्षिण –पश्चिम में स्थित हैं इसे महाराजा रणजीत सिंह ने गुरु नानक देवजी के जन्म स्थान […]

राजनीति

दुनिया को उपदेश देता, दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवादी देश

‘पर उपदेश कुशल बहुतेरे ‘वाली भारतीय कहावत, इस धरती के सबसे बड़े आतंकवादी देशों, यथा अमेरिका और मरणासन्न ब्रिटेन जैसे देशों पर बिल्कुल सटीक बैठती है, इन युद्धपिपासु और मानवहंता देशों पर अब तक दर्जनों निरपराध देशों को बर्बाद करने, उनके राष्ट्राध्यक्षों की निर्मम हत्या कराने, दुनिया भर में करोड़ों मनुष्यों का खून बहाने, कई […]

राजनीति

क्या है एनपीआर ?

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर  (एनपीआर) एनपीआर का पूरा नाम ‘नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर’ है  है इसके तहत 1 अप्रैल 2020 से 30 सितंबर, 2020 तक नागरिकों का डाटाबेस तैयार किया जाएगा । कर्मचारी देशभर में घर-घर जाकर नागरिकों से जानकारी एकत्रित करेंगे । सरकार ने स्पष्ट किया है कि एनपीआर अपडेशन के दौरान व्यक्ति द्वारा दी गई […]

राजनीति

क्या सैनिक का कोई मानवाधिकार नहीं है ?

पुलिस का साधारणतः अर्थ रक्षक  होता है जिसका उपयोग किसी भी देश की अन्दरूनी नागरिक सुरक्षा के लिये ठीक उसी तरह से किया जाता है जिस प्रकार किसी देश की बाहरी अनैतिक गतिविधियों से रक्षा के लिये सेना का उपयोग किया जाता है। पुलिस का कार्य कानून व्यवस्था बनाए रखना, अपराध को रोकना, अपराध की […]

राजनीति

आपने स्वार्थ के लिये जनता को मुर्ख न बनाएं

जब देश के पढ़े –लिखे बुद्धिजीवी लोग जिनमें कुछ डॉक्टर वकील, शिक्षक,प्रोफेसर, स्कूल कॉलेज के डायरेक्टर, पत्रकार, संपादक जैसे लोग सी ए ए और एन आर सी में अंतर समझे बिना मुस्लिम समुदाय को भृमित करने वाली बातें सोशल मीडिया में कथित सेक्युलरिज्म या फिर गंगा जमुनी तहजीब के नाम पर डालते हैं तो उनकी […]

राजनीति

नागरिकता संशोधन कानून 2019

नागरिकता संशोधन कानून 2019 को लेकर जो समाज में दुष्प्रचार किया जा रहा है। उससे मुस्लिमों की नागरिकता एवं उनके अधिकारों का हनन होगा। यह पूर्ण रूप से असत्य है। इस कानून से किसी मुस्लिम ही नहीं अपितु किसी भी भारतीय नागरिक का कोई भी अहित नहीं है। इस कानून से भारत के किसी भी […]