Category : सामाजिक

  • पतंग,मांझा और प्राण

    पतंग,मांझा और प्राण

    पतंग,मांझा और प्राण 14 जनवरी को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाता हैं।विशेषतः ये पर्व सूर्य उपासना और दान,पुण्य के लिए ही माना जाता है। तदाचित कुछ राज्यों, जैसे गुजरात और महाराष्ट्र में इस दिन पतंगबाजी...


  • संस्था व व्यक्ति प्रबंधन

    संस्था व व्यक्ति प्रबंधन

    संस्थाएँ व्यक्ति बनाते हैं जिनमें विकसित या अविकसित साहित्यकार, कलाकार, अध्यात्म पथिक, सामाजिक नेतृत्व, आदि आदि छिपा हो सकता है ! उनके मन स्वयं के अस्तित्व व विश्व की अजस्र सत्ता के समझने व उस राह...




  • कमाल के किस्से-22

    कमाल के किस्से-22

    ये कमाल क्या है? कमाल क्यों होता है? कमाल कब होता है? कुछ पता नहीं, पर हो जाता है. चलिए आज हम फिर कमाल की ही बात कर लेते हैं. दिव्यांगों का जजबा- गतांक से आगे-...

  • सेवा का मूल्य

    सेवा का मूल्य

    मेरे संस्कार मुझे बचपन से ही सदा सेवा की और अग्रसर करते रहते थे । मेवा खाने कि प्रवृति बचपन से ही थी क्योंकि पिताजी अक्सर मेवा खाते ही रहते थे । एक दिन पिताजी से...

  • फिर सदाबहार काव्यालय-9

    फिर सदाबहार काव्यालय-9

    नये साल का तराना नया है साल सुंदर-सा तराना मिलके गाना है मिली हैं जो मधुर यादें उन्हें संग लेके जाना है- न मंदिर-मस्जिद के झगड़े में अपनी ताकत खोएंगे पढ़ाकर पाठ मानवता का सारे जग...

  • ब्लॉग – संयोग पर संयोग-11

    ब्लॉग – संयोग पर संयोग-11

    खुद से मुलाकात एक बार फिर संयोग पर संयोग की बात करते हुए हम खुद से मुलाकात करने चलते हैं. खुद से मुलाकात से पहले हमारी एक कविता ”खुद से ही मुलाकात नहीं हो पाती” की...