Category : सामाजिक

  • कुछ तो चल रहा है

    कुछ तो चल रहा है

    कुछ तो चल रहा है। कुछ तो ऐसा है, जिसके कारण लोगों ने आक्रोश दिखाया है। पिछले साल से ही एक बीमारी आई है, कमाल है इस बीमारी का नाम और इलाज भी पता है, लेकिन...

  • लेख

    लेख

    जीवन जीने के दो ही मार्ग हैं, प्रथम लोगों की बातों पर ध्यान न देकर अपने लक्ष्य पर केंद्रित रहो एवं द्वितीय लोगों की बातें सुनने और उन्हें उत्तर देने में अपना अमूल्य समय नष्ट कर...




  • लेख – विरोध

    लेख – विरोध

    विरोध भी बंधन का एक प्रकार है। आप जिस भी वस्तु या व्यक्ति का विरोध करते हैं जाने-अनजाने स्वयं को उसके साथ बाँध लेते हैं। बंधन तो बंधन ही है प्रेम का हो या नफरत का।...

  • लेख : कंजूसी

    लेख : कंजूसी

    ये कंजूस भी अजीब ही लोग होते हैं। इसे मानसिक रुग्णता ही कहा जाना चाहिए। आखिर क्यों कोई कंजूस होता है, कुछ भी देने में हिचकता क्यों है, कुछ भी छूटता क्यों नहीं हैं, जो आ...

  • लेख – शांत रहें

    लेख – शांत रहें

    यह जरुरी नहीं कि जीवन में हमेशा प्रिय क्षण ही आएं एवं दूसरे लोगों का अनुकूल व्यवहार ही हमें प्राप्त हो। अपमान, शोक, वियोग, हानि, असफलता आदि तमाम स्थितियां आती रहती हैं और जाती भी रहती...