Category : सामाजिक

  • pk फ़िल्म पर मेरे विचार 

    pk फ़िल्म पर मेरे विचार 

    pk फ़िल्म पर मेरे विचार अधिकतर हिन्दू संगठन pk फ़िल्म का विरोध कर रहे है। किसी का कहना है की यह धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचना है। किसी का कहना है कि इसमें शिव के वेश...

  • पीके बनी है पीके?

    पीके बनी है पीके?

    आमिर खान एक बेहद संजीदा आदमी है, समाज के कुरूतियों के खिलाफ उनका उठाये जाने वाला कदम सराहनीय होता है, जिसको समय समय पर वो विभिन्न माध्यमो से उठाते रहते है, जो स्वागत योग्य है. राजकुमार...


  • समदर्शिता

    समदर्शिता

    समदर्शी शब्द का अर्थ है- दूसरों के दुःख और सुख को अपने जैसा समझने वाला या दूसरों के साथ सहानुभूति रखने वाला । गीता के अनुसार समदर्शी व्यक्ति सभी जीवों में एक जैसे चेतन तत्त्व का...



  • अभय की महिमा

    अभय की महिमा

    गीता में दैवीय सम्पदा के परिचायक 26 गुणों का वर्णन करते हुए सबसे पहले अभय का उल्लेख किया गया है। अभय का अर्थ है-बाहरी भयों से मुक्ति। भय हैं- मौत का भय, रोग भय, धन-दौलत लुट...


  • डोलू में बैठा भगवान

    डोलू में बैठा भगवान

    नंगे पाँव, मैला जिस्म उस पर लटकता फटा कुर्ता और कमर से सरकती फटी निक्कर हाथ में छोटा डोलू और डोलू में बैठा भगवान तुतलाती आवाज़ बगवान के नाम कुछ दे दे अँकल हाथ में भगवान...

  • धर्माचरण

    धर्माचरण

    धैर्य क्षमा संयम चोरी न करना पवित्रता और इन्द्रिय निग्रह आदि को धर्म के दस लक्षण बताया गया है। इन लक्षणों को जीवन का अंग बना लेना ही धर्माचरण हैं कर्मों की पवित्रता ही सच्चा पूजापाठ...