हास्य व्यंग्य

खट्टा-मीठा : लड़की नहीं, लड़ती हूँ

कोई पचपन साल की अधेड़ औरत यदि खुद को लड़की कहे, तो उस पर हँसी से ज़्यादा तरस आता है। दादी-नानी बनने की उम्र में लड़की बनने का शौक़ चर्राया हो, तो ब्यूटी पार्लर वाली भी आत्महत्या कर लेंगी। “सींग कटाकर बछड़े बनने” का मुहावरा ऐसे ही उदाहरणों से निकला होगा। वैसे औरतों के लिए और विशेषकर अधेड़ उम्र की औरतों के लिए लड़ना कोई अजूबा नहीं है। इसका नजारा रोज़ ही आप किसी बस्ती के सार्वजनिक नल पर देख सकते हैं। “पहले मैं भरूँगी-पहले मैं भरूँगी” के वाक् युद्ध के साथ-साथ हाथ नचा-नचाकर जो महायुद्ध होता है, उसको देखकर बस्तीवालों का अच्छा मनोरंजन हो जाता है, वह भी बिना टिकट। औरतों की इस लड़ाका-क्षमता का सही सदुपयोग राजनैतिक दल ही कर पाते हैं। वे अपनी रैली के दिन दिहाड़ी पर ऐसी औरतों को इकट्ठा कर  ले जाते हैं, फिर वे किसी सरकारी कार्यालय के सामने […]

हास्य व्यंग्य

डिजिटाइज्ड सरपंचजी

ग्राम्यांचल में वहाँ के स्थानीय विवाद निपटाने के लिए किसी मौजे की एक ग्राम -पंचायत होती है।एक मौजे में एक या एकाधिक गाँव होते हैं।ग्राम -पंचायत में पाँच गण्यमान्य व्यक्ति पंच चुने जाते हैं ,जिनका वहाँ विशेष सम्मान भी होता है। वही वहाँ के जज होते हैं।इसी प्रकार कई ग्राम -पंचायतों की एक न्याय पंचायत […]

समाचार

बारह सरस्वती साधक-साधिका सम्मानित

आगरा । बृजलोक साहित्य, कला, संस्कृति अकादमी के सौजन्य से देशभर के बारह सरस्वती साधक- साधिकाओं को विभिन्न साहित्यिक उपाधियां प्रदान कर सम्मानित किया गया । प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त कलमकारों को सत साहित्य के साथ प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किये गये । सभी सम्मानित कलम साधकों को पंजीकृत डाक/ कोरियर से संपूर्ण […]

समाचार

रूपेश “हिंदी गौरव – 2022” सम्मान से सम्मानित हुए 

बिहार के सीवान जिले के चैनपुर गांव के प्रख्यात युवा साहित्यकार रूपेश कुमार को विश्व जन चेतना ट्रस्ट, भारत के संस्थापक दिलीप कुमार पाठक ‘सरस’ एवं व्यवस्थापक ओम प्रकाश फुलारा ‘प्रफुल्ल’ जी के द्वारा विश्व हिंदी दिवस के शुभ अवसर पर 2022 का हिंदी गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया । साहित्य जगत मे इनकी […]

हास्य व्यंग्य

दिल सूअर का …  (व्यंग्य)

जब भी कोई आज के विज्ञान की उन्नति की बात करता है तो उसकी बात काटने को कोई ना कोई हमारे यहाँ मौजूद मिल ही जाता है और वह बिना रुके, चलने वाली एक्सप्रेस ट्रेन की भाँति एक ही सांस में इतनी बातें उड़ेल देता है कि आज के विज्ञान का विकास सिकुड़ कर कौने […]

समाचार

डॉ. सदानंद पॉल ने फिर बनाया गणित पहेली ‘केपी10’

                                ■डॉ. सदानंद पॉल ने फिर बनाया गणित पहेली ‘केपी10’ ■बिहार बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने ‘इटरनेशनल रिकॉर्ड’ के रूप में किया दर्ज ■पिता कालीप्रसाद पॉल (केपी) के 76वें जन्मदिन पर 10 जनवरी को उन्हें  किए भेंट ●●● अभी 7 जनवरी से […]

समाचार

विश्व हिन्दी दिवस की पूर्व संध्या पर ऑनलाइन कवि सम्मेलन

निज भाषा निज देश का होता नहीं विकल्प। हिन्दी के प्रचार का ले लो सब संकल्प ।। नरेन्द्र सिंह नीहार दिल्ली, विश्व हिन्दी दिवस की पूर्व संध्या पर देश की अग्रणी साहित्यिक संस्था हिन्दी की गूंज व काव्यवृष्टि पटल के संयुक्त तत्वाधान में हिंदी का शंखनाद कवि सम्मेलन का ऑनलाइन आयोजन किया गया। कविगणों ने दोहे, कविता, गीत, मु्क्तक आदि के माध्यम […]

समाचार

श्री साहित्य नववर्ष सम्मान संजय वर्मा “दृष्टि” को

सोशल मीडिया पर आयोजित मुख्य आयोजनकर्ता हिंदी वर्ल्ड ऑफ राइटर्स एवं श्री साहित्य पा-लो-जीवन संस्था द्वारा आयोजित नव वर्ष काव्य प्रतियोगिता में उत्कृष्ट साहित्यिक प्रस्तुति के लिए ऑनलाइन वोटिंग के आधार पर मनावर जिला धार मप्र के संजय वर्मा”दृष्टि” को श्री साहित्य नववर्ष सम्मान से विभूषित किया जाकर मंच ने उज्ज्वल भविष्य की कामना की।उल्लेखनीय […]

पुस्तक समीक्षा

प्रवासी साहित्यकार का महत्वपूर्ण ग्रंथ : रामदेव धुरंधर की रचनाधर्मिता

मारीशस के हिंदी साहित्यकार रामदेव धुरंधर के रचना-संसार पर आधारित ग्रंथ –‘रामदेव धुरंधर की रचनाधर्मिता’,साहित्यभूमि द्वारा प्रकाशित महत्वपूर्ण कृति है l इस पुस्तक में रामदेव धुरंधर की विविध विधाओं जैसे उपन्यास, कहानी, लघुकथा, गद्य क्षणिका, व्यंग्य आदि रचनाओ के अध्ययन एवं उनके साथ बिताये गये समय एवं अनुभवों के आधार पर देश-विदेश के हिंदी विद्वानों, […]

पुस्तक समीक्षा

समय से संवाद करता ‘सत्यवान सौरभ’ का दोहा संग्रह ‘तितली है खामोश’ 

(अमेजन, फ्लिपकार्ट और अन्य ऑनलाइन प्लेटफार्म पर उपलब्ध यह दोहा संग्रह कुछ आप बीती और कुछ जगबीती से परिपूर्ण है। यह वर्तमान समय से संवाद करता हुआ काव्य कहा जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। मुझे विश्वास है यह दोहा संग्रह पाठकों को प्रभावित करेगा। सत्यवान ‘सौरभ’ के दोहा संग्रह “तितली है खामोश” के दोहे आज […]