हास्य व्यंग्य

खट्ठा-मीठा : जाने कहाँ गये वे दिन

अहा! वे भी क्या दिन थे! सरकार को हमारी सुरक्षा की इतनी अधिक चिन्ता रहती थी कि हर त्यौहार पर सुरक्षा चेतावनियाँ जारी की जाती थीं। उन चेतावनियों के साये में लोग सावधानी से त्यौहार मनाने की औपचारिकता निभाते थे। उनको हर समय डर लगा रहता था कि कोई रंग में भंग डालने वाला तो […]

हास्य व्यंग्य

पॉलिटिक्स माने चिनिया बादाम

देश की पॉलिटिक्स होती जा रही है- ‘चिनिया बादाम’ यानी टाइम पास यानी ‘मूंगफली’ यानी फोड़-फाड़ यानी सोट-मोट बराबर ! क्यूँकि सत्ता है सट्टा बहुमत नहीं हो जब, तो जैसे-तैसे बना लो गठबंधन ममता से हठबंधन तो एनसीपी हो या बीजेपी सेम टू सेम ‘मायावती’ बहन, आखिर सब ऐसे ही है यानी येन केन प्रकारेण […]

हास्य व्यंग्य

गम्भीर हास्य

जिस व्यक्ति की पत्नी के ‘जीजाजी’ होते हैं, उस व्यक्ति को दिन में नींद आ जाती होगी, किन्तु रात में तो बिल्कुल नहीं ! ×××× एक टीचर अपनी टीचर पत्नी से इस कदर परेशान है कि ‘पत्नी’ अपने पति को छोड़ जीजा के साथ व्यस्त हैं ! ×××× एक महिला मित्र ने मुझसे परामर्श माँगी- […]

हास्य व्यंग्य

नाक कटने से

‘नाक’ कटने से लोगों को तूफान नहीं मचाने चाहिए, क्योंकि ‘नाक’ लिए बना शब्द अच्छे नहीं हैं, यथा- ख़तरनाक, शर्मनाक, ख़ौफ़नाक …. ! ×××× फ्री में मिले, तो जो ‘पत्थर’ भी खा सकती है, उसे डॉक्टर ने दिनभर में 60 ग्राम आहार ही खाने को कहा है ! ×××× मैं ‘चश्मा’ नहीं पहनता, इसलिए भ्रमित […]

हास्य व्यंग्य

तय से तय तक

बिहार में एक ज़िला, जहाँ 6℃ लिए ठंढ पर 9 AM से 4 PM तक विद्यालय संचालित होती, उसपर शिक्षकों और छात्रों की हाज़िरी व्हाट्सएप से होती! ××× अब पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगनी ही चाहिए, क्योंकि जिसतरह से वहाँ महामहिम राज्यपाल को असम्मानित किया जा रहा है ? ××× मुझे हमेशा ही यह […]

हास्य व्यंग्य

नमस्ते बाइडेन, बाय-बाय ट्रम्प

जी हाँ! एक दम सही पढ़ा आपने! दुनिया के सर्व शक्तिशाली शख्स का तमगा अपनी छाती पर लादकर बाइडेन अब व्हाइट हाउस की गद्दी में बैठने जा रहे हैं।सर्वशक्तिशाली देशों की सूची में ओहदा रखने वाले अमेरिका को नया राष्ट्रपति बाइडेन के रूप में मिल गया है।वैसे अमेरिका के नये राष्ट्रपति के समक्ष चुनौतियां भी कम नहीं […]

हास्य व्यंग्य

ग्राउंड जीरो

मेरे प्रिय मित्र भाई भरोसे लाल आया और बोले कि तैयार हो जाओ ग्राउंड जीरो पर चलना है। क्योंकि मेरा अंग्रेजी का ज्ञान अल्पतम है चलो पहले अल्पतम का ही मतलब बता दूँ क्योंकि हो सकता है आप सब अंगेरजी प्रेमी होंगे ही इसलिए सम्भव है कि आपका हिंदी ज्ञान भी अंग्रेजी जैसा ही हो। […]

हास्य व्यंग्य

लव जिहाद, चुनाव एवं कोरोना

आनेवाले दीपावली पर्व से उत्साहित मुहल्ले के कुछ नवयुवक भूल गए कि लॉक-डाउन आंशिक गया है और कोरोना तो बिल्कुल नहीं गया है। यह घोषणा भी भूल गए कि जबतक दवाई नहीं, तबतक ढिलाई नहीं। उन्होंने मुहल्ले के राममंदिर में सामूहिक रूप से ‘दीपोत्सव’ कार्यक्रम करने की योजना बना ली।दुखी आत्मा घबराए।इस कोरोनाकाल में ऐसी […]

हास्य व्यंग्य

फ्राइडे

क्या ‘अंडे’ के अंदर में मुर्गे का ‘वीर्य’ होते हैं! मेरा सवाल है- 1.) ‘अंडा’ शाकाहारी है या मांसाहारी ! 2.) ‘वीर्य’ शाकाहारी है या मांसाहारी ! एक अलहदा जवाब है- अंडे खानेवाला ‘अंडाहारी’ है, तो ‘वीर्यहारी’ भी होते हैं क्या ? तो फिर क्या ? मुर्गे-मुर्गी को भी आनंद आते हैं ! अगर हाँ, […]

हास्य व्यंग्य

वाह रे पुरस्कार

वाह रे ….पुरस्कार !!! पुरस्कार लौटने से ऐसा लगता है, उन्हें पुरस्कार अपने कृति के लिए नहीं ,बल्कि “सेटिंग” कर प्राप्त किया है! किसी की थोड़ी उपलब्धि पर सबसे ज्यादा “भारतरत्न” या “पद्मश्री” कांग्रेस ने दिया है। सन 1984 के सिख दंगे पर लेखक या किसी को वर्ष 1985 में कोई पुरस्कार लेना ही नहीं […]