कविता

उड़ान

सुन मेरे मन के परिंदे आगे ही तू बढ़ता चल। न सोच तू इन राहों का बस आगे ही निकलता चल। न सोच तू राहगीरों का वो भी खुद पंथ पे मिल जाएंगे। न सोच तू इन हवाओं का ये भी एक दिन बह जाएंगी। न सोच तू इन तूफानों का ये भी एक दिन […]

कविता

शेष है

मृत्यु का पता नहीं मगर श्रेष्ठ  जीवन अभी शेष है। नफ़रत का पता नहीं मगर मोहब्बत की अभिलाषा अभी शेष है। आत्मसमर्पण का पता नहीं मगर आत्मबलिदान का बोध अभी शेष है। मन में पनपते क्रोध का पता नहीं मगर ह्रदय के आँचल में शांति अभी शेष है। आत्मग्लानि का पता नहीं मगर आत्म साक्षातकार […]

समाचार

राजीव डोगरा को बृज गौरव अवार्ड 2023 तथा विवेकानंद राष्ट्रीय स्मृति सम्मान 2023 ला।

कांगड़ा,हिमाचल प्रदेश. विश्व गंगा वाहिनी एवं शोध संस्थान,आगरा द्वारा मकर सक्रांति के शुभ अवसर पर कांगड़ा हिमाचल प्रदेश के भाषा अध्यापक एवं युवा कवि लेखक राजीव डोगरा को साहित्य,शिक्षा तथा शिक्षण में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए संस्थान द्वारा बृज गौरव अवार्ड 2023 देकर सम्मानित किया गया।साथ ही विवेकानंद जयंती के शुभ अवसर पर युवा संगम […]

कविता

परवाह छोड़ दो

दर्द होता है सीने में तो होने दो। देकर मोहब्बत भी कोई करता है नफरत तो करने दो। देखकर दूसरों के जीवन में उल्लास कोई मरता है तो मरने दो। देकर मान-सम्मान भी कोई गिरता है नजरों से तो गिरने दो। देकर प्रेम,लगाव और एहसास भी कोई जीवन से जाता है तो जाने दो। ईमानदारी […]

कविता

बदलाव

हालात मत पूछिए बदलते रहते हैं। समय मत पूछिए गुजरता रहता है। मोहब्बत मत कीजिए होती रहती है। दिल्लगी मत कीजिए दिलदार औरो से भी दिल लगाते रहते हैं। परिस्थिति मत देखिए स्थिति बदलती रहती है। हमसफर जल्दी मत बनाइए हमराही बदलते रहते हैं। — राजीव डोगरा

कविता

नए साल में

नए साल में एक नए युग का आगाज होगा। महाकाल महाकाली के भक्तों का जय-जयकार होगा। छाया था जो जीवन में घोर अंधकार उसमें भी प्रकाश होगा। हार चुके हैं जो हम दाव उसमें भी जीत का आयाम होगा। करते हैं जो हमसे नफरत नए साल में उनको भी हमसे प्यार होगा। — राजीव डोगरा

समाचार

राजीव डोगरा को मिला साहित्य गौरव सम्मान

कांगड़ा,हिमाचल प्रदेश बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति अंतरराष्ट्रीय द्वारा आयोजित विश्व के सबसे बड़े वर्च्युअल कवि सम्मेलन में सहभागिता कर कांगड़ा के राजीव डोगरा ने बढ़ाया हिमाचल का गौरव। विश्व रिकार्ड में शामिल होने पर और साहित्य में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए संस्था द्वारा राजीव को साहित्य गौरव सम्मान देकर सम्मानित किया गया।यह कवि सम्मेलन […]

कविता

मत वहन करो

मत वहन करो मेरे विचार को मुझे भी नहीं चाहिए तुमसे अलंकार के भूषण। मत वहन करो मेरी वाणी को मुझे भी नहीं चाहिए तुमसे छंदों के बंधन। मत वहन करो मेरे अंतर्द्वंद को मुझे भी नहीं चाहिए तुमसे परिछंदों के द्वंद। मत वहन करो मेरे अंत:वेगों को मुझे भी नहीं चाहिए तुमसे रागों की […]

राजनीति

मानव अधिकार दिवस

मानव अधिकार दिवस हर साल 10 दिसंबर को पूरे विश्व में मनाया जाता है।यह संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 10 दिसंबर, 1948 को मानव अधिकारों की सार्वभौमिक घोषणा को अपनाने का जश्न मनाता है। तब से भारत सहित तमाम देश 10 दिसंबर को अपना राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस मनाते हैं।मानव अधिकार दिवस मानव को अपने अधिकारों की […]

कविता

कृष्ण अर्जुन

बन के अर्जुन तुम्हें अब लड़ना ही होगा, सौ खड़े हो अपने तेरे उठाकर ब्रह्मास्त्र सबका विनाश करना ही होगा। जो दिखते हैं न नकाब ओढे हुए अपने वो युगों से तेरा तिरस्कार करते आए हैं। उठकर तुम्हें अब उनकी व्यंग भरी हंसी का जवाब देना ही होगा। मत ढूंढना किसी में भगवान कृष्ण को […]