सामाजिक

इत्र है खुशबू का राजा 

” मैं इत्र से महकूँ,ये आरजू नहीं है, तमन्ना है मेरे किरदार से खुशबू आये। “ कहा जाता है कि भोजन संबंधी मूलभूत आवश्यकता के बाद सौंदर्य है जो हमेशा से इंसान को मोहित करता रहा है इसलिए इस खूबसूरती को बढाने के लिए तमाम तरीकों के प्रयोग किये गये। कल्पना कीजिए कि आपके वर्कस्थल […]

इतिहास

चाय की चुस्कियों की दास्तान

       सुबह-सुबह आखें खुलते ही सबसे पहले चाय की ही तलब लगती है। सुबह और शाम अगर चाय नहीं पी तो दिन अधूरा सा लगता है। भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में आपको चाय के शौकीन हर घर में मिल जायेंगे। ये हर मौसम में पीये जाने वाला पसंदीदा पेय बन गया […]