Author :

  • देवी गीत

    1. अंबा माँ मोहनी मूरत तुम्हारी चक्र गदा त्रिशूल तलवार धारी अंबा माँ ……. 2. ममतामयी मनमोहनी मूरत करुणामयी बड़ी सोहिनी प्यारी अंबा माँ ……. 3. सुन्दर इतनी मुँह से बोले सत्य शिव सुन्दर मनोहारी अंबा...


  • ग़ज़ल

    ग़ज़ल

    तूने खत मुझको किसलिए भिजवाया था ! जानना चाहती हो क्या समझ न आया था !! तुझको दिल दे चुका था उस दिन ही अपना ! तेरी आँखो से अपनी आँखे जब मिलाया था !! ख्याल...

  • ग़ज़ल

    ग़ज़ल

    गलतियों पर तेरी पर्दा डालेंगे नही हम ! जो फँस जायेगा मुसीबत में निकालेंगे नही हम !! सुख दुःख में तू हमारे भागीदार नही था ! लिहाज किसी का भी अब पालेंगे नही हम !! धन,दौलत,इज्जत,शौहरत...

  • ग़ज़ल

    ग़ज़ल

    जो दिल तुझसे मैंने लगाया न होता ! तो दिल आज मेरा पछताया न होता !! आँखों से मेरी यूँ आँसू न बहते ! जो प्यार को मेरे ठुकराया न होता !! जीस्त में मेरी भी...


  • प्यारी बीबी

    प्यारी बीबी

    बिंदिया पायल गहने झुमके साड़ी लाया हूँ रूठी मुझसे मेरी बीबी उसे मनाने आया हूँ पांच सितारा रेस्तरां में डिनर पर जायेंगे साथ मूवी देखने का प्रोग्राम बनाया हूँ साथ नही चलना कोई बात नही डार्लिंग...

  • पँहुचे ना आफताब जहाँ शायर पहुँचे गरीबो के जानने वो हालात घर पहुँचे !! उनकी आँखे बयां करती है हाल सारा कमाने निकले बेटे घर से शहर पहुँचे !! हाथ जोड़े घर-घर कहे हमें ही वोट...