शपथ ग्रहण

अक्सर देखा जाता की किसी मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण समरोह एक बहुत बड़े सार्वजानिक मेले की रूप में मनाया जाता है, मेरे विचार में किसी भी सवैधानिक पद का शपथ ग्रहण एक अनिवार्य काम है जो सविंधान की मर्यादा में शासकीय ढंग से कार्यान्वित होना चाहिए, जैसे प्रधान मंत्री का शपथ ग्रहण राष्ट्रपति भवन में और मुख्यमंत्री का राजभवन मे. ऐसे आयजनो पर फ़िज़ूल पैसा खर्च करना कहाँ तक उचित है, इस से तो अच्छा है कि जिन गण्यमान लोगों को , वीरता, खेल, समाज सेवा, कला, साहित्य, या अन्य क्षेत्रो में विशिष्ट पदक आदि दिए जाते हैं, उनके लिए पुस्कार वितरण समारोह सार्वजानिक रूप से आयोजित करना चाहिए. आपका क्या विचार है, धन्यवाद,

जय प्रकाश भाटिया

परिचय - जय प्रकाश भाटिया

जय प्रकाश भाटिया जन्म दिन --१४/२/१९४९, टेक्सटाइल इंजीनियर , प्राइवेट कम्पनी में जनरल मेनेजर मो. 9855022670, 9855047845