भजन – प्रभु जी सुनो विनती हमारी

प्रभु इतना ध्यान रखना जब अंत समय आए !
दर्शन का हमको दान देना जब अंत समय आए!
प्रभु जी अब सुन लो बस इतनी विनती हमारी!
 हम सेवक रहे तुम्हारे सदा और  तुम हमारे स्वामी!
परिवार का रक्षक पालन पोषण सदा करना!
जब तक हो इस धरती पर सांस में सांस हमारी!
अपनी कृपा दया दृष्टि सदैव बनाए रखना हम पर!
भूल  माफ कर अपना हाथ सदा रखना हमारे सर पर!
मोह माया त्याग कर अपनी शरण में रख लो हमको!
करता रहूं मैं तेरी पूजा जन्मो जन्म पाऊं मैं तुझको!
प्रभु इतना ध्यान रखना जब अंत समय आए
दर्शन का हमको दान देना जब अंत समय आए

परिचय - अमित कुमार राजपूत

मैं पत्रकार हूं निवासी गाजियाबाद उत्तर प्रदेश