विविध

डीजे पर गीज़े

भक्ति के नाम पर ‘डीजे’ पर फूहड़, भद्दे व द्विअर्थी गाने बजाकर बेहद अवांछित डांस करनेवाले नेतानुमा किशोर क्या संदेश देना चाहते हैं ? …. अर्थात भक्ति के नाम पर ‘डीजे’ पर फूहड़, भद्दे और द्विअर्थी गाने बजाकर बेहद अवांछित डांस करनेवाले सच में सनातन धर्म के मूल को नहीं समझते! ये मौसमी लोग खुद को आधुनिक दिखाने के फेर में समयानुकूल धार्मिक बन जाते हैं और अपनी आदत को छुपाने में कोई संकोच न करते हैं!
••••••
हमें अपने अंदर झाँकने चाहिए कि हम कितने सदाचारी हैं, सिर्फ़ सरकार को भ्रष्टाचारी कहकर हम मुक्त नहीं हो सकते हैं !
••••••
आप अगर चायवाले हैं, तो निश्चित ही PM बन जाएंगे, किन्तु चाय बेचकर IAS बनते मैंने नहीं देखा है, उसके लिए पढ़ने ही होंगे ! एक दिन के लिए क्या-क्या शुभकामना दूं…. ताउम्र के लिए हर उत्सवों की लख-लख शुभकामनाएँ!
••••••
चाहे यह PK (प्रशांत किशोर) आये या वह PK (आमिर खान), लेकिन उन्हें NK (नीतीश कुमार) ने इतनी दुःख व पीड़ा पहुंचाए हैं, वे तो NT (नियोजित टीचर) रहेंगे!

परिचय - डॉ. सदानंद पॉल

तीन विषयों में एम.ए., नेट उत्तीर्ण, जे.आर.एफ. (MoC), मानद डॉक्टरेट. 'वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स होल्डर, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, RHR-UK, तेलुगु बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, बिहार बुक ऑफ रिकॉर्ड्स होल्डर सहित सर्वाधिक 300+ रिकॉर्ड्स हेतु नाम दर्ज. राष्ट्रपति के प्रसंगश: 'नेशनल अवार्ड' प्राप्तकर्त्ता. पुस्तक- गणित डायरी, पूर्वांचल की लोकगाथा गोपीचंद, लव इन डार्विन सहित 10,000+ रचनाएँ और पत्र प्रकाशित. भारत के सबसे युवा संपादक. 500+ सरकारी स्तर की परीक्षाओं में क्वालीफाई. पद्म अवार्ड के लिए सर्वाधिक बार नामांकित. कई जनजागरूकता मुहिम में भागीदारी.

Leave a Reply