अन्य लेख

रोड शो- 21 : बातें रोचक जानकारियों की

आज बातें रोचक जानकारियों की करते हैं.

रोचक जानकारियों से पहले कुछ बातें कोरोना की-
Faridabad News: बिटकॉइन से ऑर्डर, ऑनलाइन कोरोना वैक्‍सीन बेचने वाले साइबर ठगों से सावधान!
साइबर ठग केवल क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन (Bitcoin) से ले रहे पेमेंट
साइबर ठग (cyber crime) निजी जानकारियां पूछकर झांसा दे रहे
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक वैक्सीन के लिए इस तरह की कोई बुकिंग नहीं की जा रही

Corona New Strain News: कोरोना का नया रूप कितना खतरनाक, क्या वैक्सीन का नहीं होगा असर, जानें सब
ब्रिटेन के एक लैब में RT-PCR टेस्ट के दौरान कोरोना वायरस के इस खतरनाक स्ट्रेन का पता चला है। टेस्ट के दौरान पता चला कि यह वायरस पहले के कोविड-19 वायरस की तुलना में ज्यादा संक्रामक है और सुपर स्प्रेडर है। हालांकि वैज्ञानिकों का मानना है कि इस नए वायरस के कारण कोरोना की वैक्सीन के कम प्रभावकारी होने की उम्मीद नहीं है।

कोविड-19 की जगह अचानक क्यों होने लगी कोविड-20 की चर्चा, समझिए
ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला है
सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लग गया कोविड-20
नए स्ट्रेन को पहले के मुकाबले ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा

कोरोना के नए स्ट्रेन पर भी असरदार होगी मॉडर्ना की वैक्सीन, कंपनी ने जताई उम्मीद
कंपनी को उम्मीद, कोरोना के नए स्ट्रेन पर भी असरदार होगी मॉडर्ना की वैक्सीन
ब्रिटेन में कोरोना के दो नए स्ट्रेन मिलने से दुनियाभर में हड़कंप
आने वाले हफ्तों में कंपनी कर सकती है नए स्ट्रेन पर वैक्सीन की टेस्टिंग

New Covid Strain UK Vaccine: खौफ में दुनिया, BioNTech ने कहा- छह हफ्तों में बना लेंगे वैक्‍सीन
Vaccine For New Coronavirus Strain UK: जर्मन बायोटेक कंपनी BioNTech ने कहा है क‍ि वह छह हफ्तों के भीतर म्‍यूटेशन को मात देने वाली वैक्‍सीन तैयार कर सकती है।

New coronavirus strain: यूके से वापस लौटे 8 यात्री मिले कोरोना पॉजिटिव, वायरस का नया स्ट्रेन बना सिरदर्द

Corona Vaccine News: खुशखबरी! दिल्ली में 28 दिसंबर को आएगी कोरोना वैक्सीन की पहली खेप

कोरोना वायरस के ब्रिटेन वाले ‘सुपरस्प्रेडर’ स्ट्रेन पर क्या बोला WHO? जानिए यहां
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि यह वायरस के विकास का एक हिस्सा है। इसलिए, इस नए सुपरस्प्रेडर स्ट्रेन से घबराने की जरूरत नहीं है।

How to lose weight: जिम गए बगैर, रोजाना 45 मिनट पैदल चलकर इस लड़की ने घटाया 18 Kg वजन

Corona vaccine: रेलगाड़ियों से भी हो सकती है कोरोना वैक्सीन की ढुलाई
कोरोना वारयरस के संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए वैक्सीन अब बाजार में आने ही वाली है
इसी के साथ देश भर में वैक्सीन की ढुलाई की तैयारी भी शुरू हो गई है
इस बीच, ऐसी खबरें आई हैं कि वैक्सीन प्रोडक्शन सिटी से देश के हर इलाके तक कोरोना वैक्सीन की ढुलाई के लिए रेलवे भी तैयारी कर रहा है
रेलवे का कहना है कि सड़क मार्ग के मुकाबले वह तेजी से और ज्यादा मात्रा में वैक्सीन को एक जगह से दूसरे जगह तक पहुंचा सकता है

New Corona Strain: ज्‍यादा लोगों को बीमार करेगा लेकिन… जानें कोरोना के नए स्‍ट्रेन पर क्‍या बोली सरकार
वायरस का नया रूप ज्‍यादा लोगों को संक्रमित करेगा लेकिन उन्‍हें ज्‍यादा बीमार नहीं करेगा। मतलब लोगों में इन्‍फेक्‍शन के मामले बढ़ सकते हैं लेकिन बीमारी गंभीर नहीं होगी। पॉल ने कहा कि ‘इस म्यूटेशन से वायरस के एक से दूसरे व्यक्ति में जाने की ट्रांसमिसिबिलिटी बढ़ गई है।

कोरोना वायरस का नया स्ट्रेनः कितना खतरनाक और कितना डरने की जरूरत, समझिए
ब्रिटेन में एक ही हफ्ते में कोरोना वायरस के दो नए स्ट्रेन मिले
भारत समेत दुनियाभर के देशों ने नए स्ट्रेन को लेकर ऐहतियात बढ़ाए
नए स्ट्रेन को लेकर पैनिक होने की जरूरत नहीं, लेकिन गंभीर रहना जरूरी

दिल्‍ली में 51 लाख लोगों को पहले लगेगा कोरोना का टीका, सीएम केजरीवाल ने दिया हर सवाल का जवाब

रोचक जानकारियों से पहले पिछले अंक के कामेंट्स से एक रोचक जानकारी-

साल १९६३ में एक आदमी अपने घर की मरम्मत कर रहा था| जहाँ उसे घर की दीवार के नीचे का हिस्से को थपथपाने से कुछ अलग ही आवाज़ आ रही थी, जिसके चलते उस आदमी ने दीवार तोड़ने का फैसला किया| और उसे मिला एक ऐसा शहर जो जमीन के नीचे बना हो और जिसमे कम से कम २० हजार लोग रह सकते हो| तुर्की के कप्पाडोसिया के डेरींकूयु में एक ऐसी ही सुरंग है, जिसमे सैकड़ों साल पहले लोग रहा करते थे| इसमें ख़ास बात यह है कि उन लोगों ने इसके अंदर हर उस चीज का निर्माण कर दिया था, जो जिंदगी को आसान बनाती थी|तुर्कीश डिपार्टमेंट ऑफ़ कल्चर के मुताबिक यह सुरंग करीब ७०० से ८०० ईसा पूर्व में बनायीं गयी थी| डिपार्टमेंट के मुताबिक इस क्षेत्र में प्राचीन ज्वालामुखी की मुलायम चट्टानें होने की वजह से ही लोगों ने इसमें करीब ४ किलोमीटर की दुरी तक इस सुरंग को बना दिया होगा और इसमें रहने लगे|डेरिंकूयु में स्थित यह सुरंग करीब ७००० स्क्वैर फ़ीट में फैली हुई है| जमीन में बसे इस शहर में ११ माले की बिल्डिंग जैसे घर भी मौजूद है जो उस समय के लोगों की कारीगरी का एक बेहतरीन नमूना पेश करते है|
इंद्रेश उनियाल

कुछ नई व उपयोगी रोचक जानकारियां-
1.प्रेशर कुकर से स्टीम लीक कर रही हो, तो पूरे गास्केट पर चम्मच से थोड़ा-सा तेल लगा दीजिए, स्टीम लीक होना बंद, काम फटाफट और गैस की बचत.
2.दो स्टील गिलास अलग नहीं हो रहे हों, तो नीचे वाले गिलास पर चम्मच से थोड़ा-सा तेल लगा दीजिए, गिलास अलग हो जाएंगे,
3.चाकू तेज करना हो तो चाय के मग को उल्टा करके उस पर थोड़ा-सा रगड़ दीजिए, चाकू तेज हो जाएगा.

अब कुछ रोचक जानकारियां और रोचक सुर्खियां-

अजगरों का गांव हुआ गुलजार, सर्दी बढ़ी तो धूप सेंकने निकल रहे बाहर, सैलानी भी पहुंचे देखने
एमपी के मंडला जिले में अजगरों का गांव है। सर्दियों के मौसम में यह गांव सैलानियों से गुलजार हो जाता है। यहां अजगर अपनी गुफाओं से बाहर धूप सेंकने के लिए निकलते हैं।

सावधान रहिए-

7वीं की बच्ची गले में फंदा डाल कर ली सेल्फी, कुर्सी का बैलेंस बिगड़ा तो गई जान

आनंद महिंद्रा ने शेयर किया गजब वीडियो, लोग बोले- ये भारत में ही हो सकता है!
कार बन गई बैलगाड़ी

सिखों ने 3 घंटे में बनाया 800 लोगों के लिए खाना, ट्रक ड्राइवर्स का भरा पेट
ट्रक ड्राइवर्स जाम में फंस गए थे. Dover में कई ट्रक रूके हुए थे। यहां तक कि ये भी नहीं पता था कि कब जाम खुलेगा.

PM Modi Visva Bharati University Speech: बाएं कंधे पर साड़ी का पल्लू क्यों, पीएम मोदी ने किया टैगोर बहू ज्ञाननंदिनी देवी का जिक्र

जब ऊपरवाले ने दिया छप्परफाड़… दुनिया के 5 जैकपॉट जिन्होंने बनाया इतिहास

भारत के बारे में रोचक तथ्‍य-

जब कई संस्कृतियों में 5000 साल पहले घुमंतू वनवासी थे, तब भारतीयों ने सिंधु घाटी (सिंधु घाटी सभ्यता) में हड़प्पा संस्कृति की स्थापना की।
भारत का अंग्रेजी में नाम ‘इंडिया’ इं‍डस नदी से बना है, जिसके आस पास की घाटी में आरंभिक सभ्‍यताएं निवास करती थी। आर्य पूजकों में इस इंडस नदी को सिंधु कहा।
ईरान से आए आक्रमणकारियों ने सिंधु को हिंदु की तरह प्रयोग किया। ‘हिंदुस्तान’ नाम सिंधु और हिंदु का संयोजन है, जो कि हिंदुओं की भूमि के संदर्भ में प्रयुक्त होता है।
शतरंज की खोज भारत में की गई थी।
बीज गणित, त्रिकोण मिति और कलन का अध्‍ययन भारत में ही आरंभ हुआ था।
‘स्‍थान मूल्‍य प्रणाली’ और ‘दशमलव प्रणाली’ का विकास भारत में 100 बी सी में हुआ था।
विश्‍व का प्रथम ग्रेनाइट मंदिर तमिलनाडु के तंजौर में बृहदेश्‍वर मंदिर है। इस मंदिर के शिखर ग्रेनाइट के 80 टन के टुकड़ों से बने हैं। यह भव्‍य मंदिर राजाराज चोल के राज्‍य के दौरान केवल 5 वर्ष की अवधि में (1004 ए डी और 1009 ए डी के दौरान) निर्मित किया गया था।
सांप सीढ़ी का खेल तेरहवीं शताब्‍दी में कवि संत ज्ञान देव द्वारा तैयार किया गया था इसे मूल रूप से मोक्षपट कहते थे। इस खेल में सीढियां वरदानों का प्रतिनिधित्‍व करती थीं जबकि सांप अवगुणों को दर्शाते थे। इस खेल को कौडियों तथा पांसे के साथ खेला जाता था। आगे चल कर इस खेल में कई बदलाव किए गए, परन्‍तु इसका अर्थ वहीं रहा अर्थात अच्‍छे काम लोगों को स्‍वर्ग की ओर ले जाते हैं जबकि बुरे काम दोबारा जन्‍म के चक्र में डाल देते हैं।
दुनिया का सबसे ऊंचा क्रिकेट का मैदान हिमाचल प्रदेश के चायल नामक स्‍थान पर है। इसे समुद्री सतह से 2444 मीटर की ऊंचाई पर भूमि को समतल बना कर 1893 में तैयार किया गया था।
भारत में विश्‍व भर से सबसे अधिक संख्‍या में डाक खाने स्थित हैं।
भारतीय रेल देश का सबसे बड़ा नियोक्ता है। यह दस लाख से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान करता है।
विश्‍व का सबसे प्रथम विश्‍वविद्यालय 700 बी सी में तक्षशिला में स्‍थापित किया गया था। इसमें 60 से अधिक विषयों में 10,500 से अधिक छात्र दुनियाभर से आकर अध्‍ययन करते थे। नालंदा विश्‍वविद्यालय चौथी शताब्‍दी में स्‍थापित किया गया था जो शिक्षा के क्षेत्र में प्राचीन भारत की महानतम उपलब्धियों में से एक है।
आयुर्वेद मानव जाति के लिए ज्ञात सबसे आरंभिक चिकित्‍सा शाखा है। शाखा विज्ञान के जनक माने जाने वाले चरक में 2500 वर्ष पहले आयुर्वेद का समेकन किया था।
भारत 17वीं शताब्‍दी के आरंभ तक ब्रिटिश राज्‍य आने से पहले सबसे सम्‍पन्‍न देश था। क्रिस्‍टोफर कोलम्‍बस भारत की सम्‍पन्‍नता से आकर्षित हो कर भारत आने का समुद्री मार्ग खोजने चला और उसने गलती से अमेरिका को खोज लिया।
भास्‍कराचार्य ने खगोल शास्‍त्र के कई सौ साल पहले पृथ्‍वी द्वारा सूर्य के चारों ओर चक्‍कर लगाने में लगने वाले सही समय की गणना की थी। उनकी गणना के अनुसार सूर्य की परिक्रमा में पृथ्‍वी को 365.258756484 दिन का समय लगता है।
भारतीय गणितज्ञ बुधायन द्वारा ‘पाई’ का मूल्‍य ज्ञात किया गया था और उन्‍होंने जिस संकल्‍पना को समझाया उसे पाइथागोरस का प्रमेय करते हैं। उन्‍होंने इसकी खोज छठवीं शताब्‍दी में की, जो यूरोपीय गणितज्ञों से काफी पहले की गई थी।
वर्ष 1896 तक भारत विश्‍व में हीरे का एक मात्र स्रोत था।
भारत विश्‍व का सबसे बड़ा लोकतंत्र और विश्‍व का सातवां सबसे बड़ा देश तथा प्राचीन सभ्‍यताओं में से एक है।

दुनिया के बारे में कुछ रोचक बातें-
1. 2060 वर्ग किलोमीटर का नो मैन्स लैंड
अंतरराष्ट्रीय क़ानून के अनुसार ये दो देशों की सीमाओं के बीच का खाली इलाक़ा होता है जिसे कोई भी देश क़ानूनी तौर पर नियंत्रित नहीं करता है. हालांकि इस पर क़ानूनी दावा किया जा सकता है.

2. दुनिया का चक्कर लगाने वाला पहला व्यक्ति
पुर्तगाली खोजकर्ता फर्डिनेंड मैगलन दुनिया का चक्कर लगाने वाले पहले व्यक्ति थे और उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े समंदर को अपना नाम दिया था

3. समंदर के किनारे ज़मीन होती है?

हम ये मानते हैं कि पानी से भरे समंदर के दूसरे छोर का शायद पता न चल सके लेकिन इसका कम से कम एक किनारा ज़रूर होता है.
लेकिन एक ऐसा समंदर है जिसके किसी किनारे कोई ज़मीन नहीं है. ये है सारगास्सो सागर.
ये अटलांटिक सागर के पश्चिम में है और उत्तर अटलांटिक में एक तरफ को मुड़ती लहरें ही इसकी सीमा बनाती हैं.
अटलांटिक की मुड़ती लहरों के कारण सारगास्सो सागर का पानी शांत रहता है.

4. रिक्टर स्केल पर मापा जाता है भूकंप?
स्कूलों में हमने यही सीखा है कि भूकंप की तीव्रता को रिक्टर स्केल पर मापा जाता है. लेकिन असल बात तो ये है कि ये पूरी तरह से सटीक जानकारी नहीं देता.
इसी कारण 1970 में एक नई प्रणाली का ईजाद किया गया जिसे आज भूगर्भ विज्ञानी एक मानक के तौर पर इस्तेमाल करते हैं. इसे सिस्मोलॉजिकल स्केल कहते हैं.

Varanasi News: काशी का अनोखा चर्च जहां गूंजती है हर-हर महादेव की आवाज, दीवारों पर लिखे गीता के श्लोक

धर्मनगरी वाराणसी में सर्व धर्म सद्भाव की मिसाल बना अनोखा चर्च
इस चर्च में गूंजती है हर-हर महादेव की आवाज, गीता के श्‍लोक भी
चर्च की दीवारों पर बाइबिल के संदेश के साथ गीता का सार भी अंकित

लड़के ने शादी के लिए रखी थी नए फोन की शर्त, मोबाइल कंपनी ने पूरी की!

Snoring Remedies: रात में सोते समय करें इस तेल का इस्‍तेमाल, जड़ से खत्‍म हो जाएगी खर्राटे लेने की समस्‍या
एसेंशियल ऑयल ऐसे सुगंधित तेल हैं, जो पौधों के विभिन्न भागों जैसे फूल, कली, बीज, पत्ती, छिलके, छाल और अन्य कई भागों से निकाले जाते हैं। एसेंशियल ऑइल्स स्टीम डिस्टलेशन या पौधों के अलग-अलग भागों को कुचलकर या कूटकर निकाले जाते हैं।

‘चीता’ देख शख्स ने पुलिस को किया फोन, लेकिन फिर सबकी हंसी छूट गई–
वह एक स्टफ्ड टॉय था, जो असली चीते जैसा लग रहा था.

अनजान महिला ने दिया डॉगी को खाना, उसकी आंखों से आंसू आ गए!

बंदर ने चुराए 4 लाख रुपये, पेड़ पर चढ़ करने लगा नोटों की बारिश

इस वजह से 2 घंटे तक बर्फ के केबिन में बैठा रहा शख्स, बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड

खबरों के मुताबिक, ये शख्स ऑस्ट्रेलिया का रहने वाला है. इसने सारे कपड़े उतारकर घंटो बर्फ के बीच बिताए. इनका नाम है जोसेफ कोएबरल. जोसेफ ने शीशे से बने एक बॉक्स के अंदर करीबन 2 घंटे 30 मिनट 57 सेकंड तक का समय बिताया. खास बात ये है कि इस बॉक्स को भरने के लिए 200 किलो से अधिक बर्फ का इस्तेमाल किया गया था. कोएबरल ने बिना कुछ पहने इसमें वक्त बिताया. ये हैल्थ वर्कर हैं और पुरस्कार राशि से जिनको कैंसर हुआ उनकी करेंगे मदद.

12 साल के बच्चे ने स्कूल के वॉशरूम में ही कर डाली ‘डीजे पार्टी’, फिर ये हुआ!-
यहां तक कि बच्चों की इस हरकत का वीडियो भी सामने आया है। इन वीडियोज में देखा जा सकता है कि उन्होंने पूरी लाइटिंग तक कर रखी थी. टीचर को भनक लगने के कारण यह पार्टी ज्यादा देर नहीं चल सकी. सबको बहुत हंसी आई.

मालिक ने बुरी तरह से पीटा था डॉगी को, लोग बेजुबान के लिए मांग रहे हैं न्याय!

95 साल की दादी को जिमनास्ट करते देख पैरों तले जमीन खिसक जाएगी
नका नाम Johanna Quaas है और वो दुनिया की सबसे उम्रदराज जिमनास्टिक हैं.

बेघर की तरह सड़क पर गुजार रहा था जिंदगी, बाल-दाढ़ी कटी तो बदली लाइफ

Sister Abhaya Case: आधी रात पादरी-नन को साथ देखा फिर… एक केस जिसमें ‘भगवान के अदृश्य हाथ ने पकड़े हत्यारे’

मजदूरी की नई परिभाषा से क्यों डरे हैं उद्योग, जानिए क्या है मामला

बातें रोचक जानकारियों की और भी बहुत-सी हैं, आज बस इतना ही. शेष बातें फिर कभी.

परिचय - लीला तिवानी

लेखक/रचनाकार: लीला तिवानी। शिक्षा हिंदी में एम.ए., एम.एड.। कई वर्षों से हिंदी अध्यापन के पश्चात रिटायर्ड। दिल्ली राज्य स्तर पर तथा राष्ट्रीय स्तर पर दो शोधपत्र पुरस्कृत। हिंदी-सिंधी भाषा में पुस्तकें प्रकाशित। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में नियमित रूप से रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं।

One thought on “रोड शो- 21 : बातें रोचक जानकारियों की

  1. 21 साल की आर्या राजेंद्रन- सबसे युवा मेयर
    केरल की आर्या ही नहीं, यूपी से लेकर मुंबई तक में रह चुके हैं सबसे युवा मेयर, देखिए तस्वीरें
    केरल में हाल में संपन्न हुए स्थानीय निकाय चुनावों के नतीजों के बाद 21 साल की आर्या राजेंद्रन (Arya Rajendran) अचानक से सुर्खियों में आ गई हैं। सभासद बनने के साथ ही वह तिरुवनंतपुरम की सबसे युवा मेयर (Thiruvananthpuram Mayor) बनने जा रही हैं। वह केरल ही नहीं बल्कि देश की सबसे युवा मेयरों में से एक होंगी।

Leave a Reply