संस्मरण

डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट की कहानी

मेरा बचपन से लेकर पी० अच० डी० तक चित्रकला का  सफ़र
पेश है एक सकारात्मक कहानी डा मिली भाटिया आर्टिस्ट की! 17 साल पहले 14 नोवेम्बर 2003 अपनी मम्मी के आकस्मिक स्वर्गवास के बाद रावतभाटा की बेटी व बहु डा मिली नन्हें बच्चों में चित्रकला के माध्यम से जागरूकता फेला रही हें!
डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट 17 साल से नन्हे बच्चों के साथ चित्रकारी में आनंद ढूँढ रही हें!डा मिली का जन्म 18 फ़रवरी 1986 को हुआ!
डॉक्टर मिली भाटिया को बचपन से ही चित्रकारी का शौक़ है!!डॉक्टर मिली ने 2008 में चित्रकला में  MA किया!!2013 में डॉक्टर मिली ने राजस्थान विश्वविद्यालय से PhD की डिग्री प्राप्त की!शोध करते वक्त डा मिली ने जवाहर कला केंद्र जयपुर में अपनी पहली एग्ज़िबिशन की * नारी अंतर्मन* !!इन सात पेंटिंग के माध्यम से डा मिली ने नारी के दर्द को उजागर किया जिसमें एक आँख के माध्यम से नारी के अंतर्मन की पीड़ा को उजागर किया!टेलिविज़न में 7 मिनट के शो में नारी अंतर्मन प्रसारित हुआ!यह शो 8 मार्च 2011 को अंतर्राष्ट्रीय  महिला दिवस पर प्रसारित हुआ!डॉक्टर मिली के शोध का विषय भारतीय लघु चित्रों में देवियों का अंकन है!!इस विषय पर नारी रूपी देवी पर जो समाज में अत्याचार हो रहे हें उन्हें कम करना है!17 साल से डॉक्टर मिली नन्हे नन्हे बच्चों को चित्रकला सिखाती आ रही हें!अब तक डा मिली क़रीब 5000 बच्चों को चित्रकला का मार्गदर्शन कर चुकी हें!ललित कला अकैडमी की तरफ़ से कोटा में 2012 में डा मिली ने दूसरी एग्ज़िबिशन की जिसकी खूब सराहना हुई!रावतभाटा में डॉक्टर मिली कई जगह अपनी एग्ज़िबिशन कर चुकी हें जिनके आर्य समाज,सेंटब कॉलोनी क्लब,टाउन्शिप क्लब,अनुकिरन क्लब शामिल हें!प्रतिवर्ष डॉक्टर मिली सरकारी स्कूल में बच्चों को शिक्षण सामग्री उपहार में देती हें!हर 6 महीने में सरकारी स्कूल में नवरात्रि पर जरूरतमंद बेटियों को 9 फ़्राक व चप्पलें वितरित करती हें!अपनी मम्मी के आकस्मिक स्वर्गवास 14 नोवेम्बर 2003 के बाद डा मिली नन्हे बच्चों के साथ चित्रकला के माध्यम से समाज में जागरूकता फेला रही हे!डॉक्टर मिली कोटा में ओम् कोठारी इन्स्टिटूट ओफ़ मैनज्मेंट एंड रीसर्च कालेज में 5 वर्ष से असिस्टेंट प्रफ़ेसर के पद पर कार्यरत हें!डॉक्टर मिली के प्रेरणास्रोत उनके पापा श्री दिलीप भाटिया हें!डॉक्टर मिली कहती हें उनकी मम्मी  श्यामा भाटिया ईश्वर के घर से उनको आशीर्वाद देकर उनकी उपलब्धि से ख़ुश होंगी!डॉक्टर मिली की स्ट्रेंक्थ उनके जीवनसाथी श्री आनंद यादव हे!डॉक्टर मिली की ख़ुशी उनकी बेटी लिली यादव और सभी नन्हें कलाकार हें जो उनसे जुड़े हुए हें!डॉक्टर मिली न्यूज़पेपर को धन्यवाद देती हें!हाल ही में डा मिली ने कोविड 19 पर निशुल्क ऑनलाइन चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की थी जिसमें 200 से भी अधिक  देश के साथ साथ विदेश के बच्चों ने भाग लिया!डा मिली 60 बच्चों को प्राइज़ देंगी व सभी बच्चों को उन्होंने ई-सर्टिफ़िकेट भेजे और 500 बच्चों को ऑनलाइन चित्रकला के टिप्स बताए!बच्चों में वो आर्टिस्ट मेम के नाम से फ़ेमस हें!डा मिली कहती हें बच्चों को चित्रकला सिखाना उनका मुख्य उद्देश्य हे!!आँखो में आजीवन रहने वाली बीमारी केरटोकोनस के बावजूद बच्चों में चित्रकला से प्रेम करने का एकमात्र उद्देश्य हे डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट का!!डॉक्टर मिली को 22 डिसेम्बर 2011 को रावतभाटा कला गौरव से और 26 जनवरी 2012 को राजस्थान सरकार और 7 जुलाई 2015 को PhD की डिग्री से सम्मानित किया गया!!
— डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट

परिचय - डॉ मिली भाटिया आर्टिस्ट

रावतभाटा, राजस्थान मो. 9414940513

Leave a Reply