Author :


  • भगवान का भोग

    भगवान का भोग

    ‘हे प्रभु !! क्षमा करना, आज मैं आपके लिये भोग नहीं ला पाया !! मजबूरी में खाली हाथों पूजा करना पड़ रही है !!’ किसी भक्त का कातर स्वर सुनकर मैंने पीछे मुड़कर देखा !! अरे...