लेख

भय नहीं जागरूकता आवश्यक है

गणेश चतुर्थी भारत देश में दस दिनों तक हिंदुओं द्वारा मनाया जाने वाला प्रमुख त्यौहार है। हिंदू धर्म की मान्यता के अनुसार भगवान श्री गणेश प्रथम पूजनीय है। यह त्यौहार भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है। इस वर्ष गणेश चतुर्थी का यह उत्सव 22 अगस्त को और विसर्जन 31 […]

लेख

हालात मुश्किल हैं नामुमकिन नहीं

त्यौहारों का मौसम शुरू हो चुका है,किंतु यह वर्ष हम सबके लिए एक सामान्य वर्ष जैसा नहीं है। प्रति वर्ष हम हर त्यौहार को बड़ी ही धूम-धाम से मनाते हैं, किंतु इस वर्ष सब समस्याओं की गिरफ्त में हैं। हम सब भली – भांति जानते हैं कि इस समय भारत ही नहीं पूरा विश्व ही […]

लेख

हरितालिका तीज व्रत दाम्पत्य जीवन की प्रगाढ़ता का पर्व’

भारत एक विशाल विविधता, कई संस्कृतियों और अलग-अलग परंपराओं को मनाने वाला देश है, जिनमें से कुछ त्यौहार और संस्कृतियाँ विलुप्त सी हो गई हैं और कुछ वर्तमान में आज भी चली आ रही हैं। इन्हीं में से एक हरितालिकातीज।     भारत के कई राज्यों में हरितालिका तीज को एक त्यौहार के रूप  में […]

लेख

नाग पंचमी नाग पूजन, धर्म और विज्ञान

नाग पंचमी विश्व के कई देशों में मनाया जाने वाला त्यौहार है। इसे श्रावण शुक्ल पंचमी तिथि में मनाया जाता है।  ऐसी मान्यता है,कि इस दिन नाग देवता की पूजा और रुद्राभिषेक करने से भगवान शंकर प्रसन्न होते हैं। नाग की पूजा में नाग को दूध पिलाया जाता है। यह भी मान्यता है कि सर्प […]

सामाजिक

कोरोना काल में गृहणियों की चिन्ता

  भारत के साथ -साथ पूरा विश्व ही कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है। अगर हम बात करें भारत की गृहणी की तो इनकी तो बात ही अलग है देखा जाए तो गृहणी किसी भी देश की हो उसका योगदान महत्वपूर्ण ही होता है। एक गृहणी जो पूरे घर का आधार होती है। उसके […]

लेख

नशा : मानवता के महाविनाश की ओर बढ़ते कदम

नशा :  मानवता के महाविनाश की ओर बढ़ते कदम  सामान्यतः व्यक्ति और समाज को अंधकार में झोंकने वाली बुराई नशा है, जिससे समाज का अधिकतम व्यक्ति अछूता नहीं रहा है। वर्तमान समय में तो महिलाएं भी नशीले पदार्थों का प्रयोग किसी ना किसी रूप में शौकिया तौर पर या तुलनात्मक रूप से करने लगी है। […]

लेख

विश्व की बढ़ती हुई जनसंख्या एक गंभीर विषय’

विश्व की बढ़ती हुई जनसंख्या एक गंभीर विषय’ सम्पर्ण विश्व के साथ-साथ भारत के लिए भी यह दिवस बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि जनसंख्या के मामले में भारत विश्व में अपना दूसरा स्थान रखता है। जोकि बहुत सोचनीय और गंभीर विषय है। 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य बढ़ती हुई जनसंख्या के […]

स्वास्थ्य

स्वस्थ शरीर और मस्तिष्क का कारण जैविक घड़ी

हमारे बुजुर्गों द्वारा हमें हमेशा यह समझाया जाता है, कि इस शरीर को जैसा बनाओ यह वैसा ही बनता है और इसे जैसे चलाओ वैसे ही चलता है। इस बात को कभी-किसी ने गहराई से नहीं सोचा,कि ऐसा क्यों होता है। इसका एक वैज्ञानिक कारण है जिसका सीधा संबंध हमारे मस्तिष्क से होता है।   […]