गीत/नवगीत

गीत – यूपी वाले

हम यूपी वाले हैं सुनो भाई यूपी वाले हैं यंहा पे रहने वालों के अंदाज निराले हैं हम यूपी वाले हैं सुनो भाई यूपी वाले हैं नाम गूंजता है प्रयाग का यंहा बनारस सी धरती लखनऊआ है कानपुर है दुनिया इसपर है मरती ताजमहल है आगरे का मंदिर और शिवाले हैं हम यूपी वाले हैं […]

गीत/नवगीत

अभिनन्दन

अभिनंदन का अभिनंदन है आदर है स्वागत वंदन है, जिसने दुश्मन की छाती पर चढ़कर यह खुल्ला बोल दिया, जो पाकिस्तान की धरती पर। जाकरके हल्ला बोल दिया उस वीर सपूत के चरणों में, बारंबार ये वन्दन है अभिनंदन का अभिनंदन है, आदर है स्वागत वंदन है। जो दुश्मन के घर में घुसकर दुष्टों का […]

कविता

भगवत गीता हूँ

मुंह से एक शब्द ना निकला भारत माता के बंटने पर, कब किसने आंसू ‍‌‌छलकाया मेरे जिस्मो केे कटने पर। मै द्वापर युग की देवी हूँ जिसको कृष्णा ने पाला है, अब मै कलियुग वो गइया। जिसका हर घर से निकाला है मैं आसमान की देवी हूँ, जिसको देवों ने पूजा है मेरे शरीर मे […]

गीत/नवगीत

तेरी याद

तेरी जब याद आती है, तो दिल रोता बिलखता है, तेरी तस्वीर देखे तो ये पागल सा मचलता है, तेरी यादों केे घेरे ने ये डाले कैसे हैं बंधन, दिवाना था दिवाना है ये गिरता और संभलता है! तेरी जब याद आती है, तो दिल रोता बिलखता है! ज़माने से न पूछों अब की कैसी […]

कविता जय विजय के अंक

दिल तोड़ कर चली गई

दिल तोड़कर चली गई यह कैसी मोहब्बत थी दिल तोड़ कर चली गई, हम रह गए अकेले वह छोड़ कर चली गई। वादा किया था उसने ना छोड़कर मैं जाऊंगी, गर छोड़कर गई तो फिर लौट कर मैं आऊंगी। जब थी पड़ी जरूरत मुंह मोड़ कर चली गई, हम रह गए अकेले वो छोड़ कर […]

कविता

कविता – मेरा दिल

तेरे दिल की तन्हाई मे मेरा दिल भी रोता है, तुझसे मै ये कैसे कह दूं रातो को ना सोता है। तुझसे ही है प्यार अनवरत कैसे मै बतला दूं, कैसे मै समझा दूं तुझको कैसे  मै दिखला दूं। सांस चलेगी जब तक मेरी तुझसे प्रेम करूंगी, सुन ले प्रियतम मेरे दिल की दुनिया से […]

कविता

तेरी जब याद आती है

तेरी जब याद आती है तो दिल रोता बिलखता है तेरी तस्वीर देखे तो ये पागल सा मचलता है, तेरी यादों केे घेरे ने ये डाले कैसे हैं बंधन दिवाना था दिवाना है ये गिरता और संभलता है, तेरी जब याद आती है तो दिल रोता बिलखता है। ज़माने से न पूछों अब की कैसी […]