कहानी

कहानी : इंतज़ार

“मालती ! देख वो आ रहा है ” शाज़िया ने मालती को कोहनी मारते हुए कहा “ऊंहss.. ठीक है देख लिया “मालती ने लापरवाही से कहा केशव ने कक्षा में प्रवेश किया और अपना बैग रख बिना इधर उधर देखे खाली पड़ी बैंच पर बैठ किताब निकल ली । शाज़िया का ध्यान अध्यापक की बातो […]

कहानी

देवी मईया

” चलो भाई …जल्दी करो .. बारात का समय हो गया है … अरे ये दूल्हा तैयार हुआ की नहीं अभी तक .. कितना देर करते हो सब!!” भुल्लन दादा ने आते ही सब पर डांट मारते हुए कहा । “अरे चाचा….काहे इतना छटपटा राहे हो ? शादी ब्याह में इतना देर होता ही है […]

कहानी

कहानी : वो लाश

रात का तीसरा पहर चल रहा होगा , चारो तरफ डरावना घुप अँधेरा ।बस्ती में इंसान तो क्या जानवर भी सो गए थे ,बीच बीच में कंही से कुत्तो के भौंकने की आवाजे रह रह के आ जाती थीं जो सन्नाटे को भंग कर देती थीं । ऐसे में एक अदम कद का साया सर […]

लघुकथा

परिवर्तन- कहानी

  ” बहन जी , हम इस लायक नहीं है की आपकी हैसियत के हिसाब से शादी कर सकें …हमारी माली हालत आपसे छुपी नहीं है ,दो लड़कियो का बोझ है मुझ गरीब पर …. किसी तरह सब्जी बेच के गुजरा करता हूँ … मैं दहेज़ कुछ नहीं दे पाउँगा …किराये के मकान में रह […]

सामाजिक

आईये जागरूक हों मान्यताओं से

सुबह जैसे ही मार्किट के लिए घर से निकला की तभी पडोसी जो की बाहर बैठा अख़बार पढ़ रहा था जोर से छींक उठा । उसकी छींक सुन माँ ने मुझे रोकते हुए कहा की अभी छींक दिया गया है , घर से निकलते वक्त अगर छींक आ जाए तो अशुभ होता है और मैं […]

सामाजिक

उफ् ये गोरा रंग !

मेरी शॉप पर एक लड़की कभी कभी कपडे लेने आती है उम्र होगी कोई 20-22 साल की हंसमुख सी, शायद किसी कंपनी में जॉब करती है। वैसे नैन नक़्श तो ठीक है पर त्वचा का रंग सांवला है,आज वह कई महीनो बाद आई थी। मैंने उसके चेहरे को देखा तो उसका चेहरा जगह जगह से […]

कहानी

पायल- कहानी

“क्या कटीली लगती है यार! कसम से दिल आ गया है हमारा तो इस पर ” प्रदीप ने आह भरते हुए कहा “हाँ छाती तो देखो कइसन उभरी है …कसम से पुरे जवार में इतनी मस्त लड़की नहीं होगी ” ये विक्रम था “इसको पटाने की कितनी कोशिश किये हम , पर ससुरी हाथ ही […]

सामाजिक

जल है तो कल है

पिछले साल , कई सालों के बाद , मुझे अपने पैतृक गाँव जाना हुआ था … वहाँ एक तालाब है , जो काफी बड़ा हुआ करता था ।उस तालाब से बचपन की काफी यादें जुडी हुई है ,कैसे मैं दोस्तों के साथ घण्टो उस तालाब में नहाता रहता था । मछलियाँ, घोंघे , कछुये , […]

इतिहास

जानिए आर्य ब्राह्मणो और यंहा के मुख्य निवासियो के बारे में

जानिए कौन थे आर्य ब्राह्मण और दस्यु – प्रसिद्ध विद्वान् राहुल सांकृत्यायन जी अपनी पुस्तक ‘वोल्गा टू गंगा ‘ में आर्य ब्राह्मणों को बाहर (वोल्गा के उत्तर से) का आया तो बताते हैं , बाल गंगाधर तिलक जी भी अपनी पुस्तक ‘ the artic home in vedas’ में आर्य ब्राह्मणों को बाहर (उत्तरी ध्रुव)का आया […]

कहानी

कहानी : और कहानी पूरी हुई…

“राघव तुम मुझ से प्यार तो करते हो न ?” नमिता ने राघव की आँखों में झांकते हुए पूछा । “अरे यार! यह भी कोई पूछने की बात है …. बहुत प्यार करता हूँ मेरी जान तुमसे” राघव ने नमिता बाँहो में भरते हुए कहा । “पर हम शादी कब करेंगे ? एक साल से […]