Author :

  • वक्त लगता है…

    वक्त लगता है…

      परिचय - डॉ मीनाक्षी शर्मा सहायक अध्यापिका जन्म तिथि- 11/07/1975 साहिबाबाद ग़ाज़ियाबाद फोन नं -9716006178 विधा- कविता,गीत, ग़ज़लें, बाल कथा, लघुकथाMail | More Posts (52)

  • जंगल की आग

    जंगल की आग

    एक दिन आग लगी जंगल में, भगदड़ मच गई यारों। कोई यहाँ कोई वहाँ था भागा, आफत आ गई प्यारों। एक चिड़िया भर लाई, चोंच में बड़ा ज़रा सा पानी। हाथी भालू हंसने लगे, हुई शेर...

  • भागती है ज़िन्दगी

    भागती है ज़िन्दगी

    रात भर पहियों पे सरपट भागती है ज़िन्दगी। अगली सुबह दिन चढे फिर जागती है ज़िन्दगी।। दर्द की एक रात लम्बी लगती ज़िन्दगी से भी, हँसती रहे गर तो बस एक रात सी है ज़िन्दगी। जिस्म...