सोनाक्षी सिन्हा जी

 

20 सिंतबर की रात के समय अपने सारे कार्यो से निबट कर रोज की तरह कोन बनेगा करोड़पति देखने बैठ गया।हर बार के शुक्रवार की तरह इस बार भी कोई सामाजिक कार्य एवं लोगो की मदद करने वाले किसी कर्मवीर व्यक्ति को आना था।

बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा को राजस्थान से आई रूमा देवी की सहायता के लिए बुलाया गया था।दरअसल, ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के 11वें सीजन में राजस्थान की रूमा देवी ने बतौर ‘कर्मवीर’ प्रतिभागी हिस्सा लिया था। सोनाक्षी खास मेहमानों के पैनल में शामिल थीं और रूमा की मदद कर रही थीं।

आप अपने बच्चो को कहाँ पर पढ़ाते है ये आपकी मर्जी है।किंतु अंग्रेजी माध्यम स्कूल में बच्चों को पढ़ाते हुए इस बात का ध्यान जरूर रखे कि वो अपनी संस्कृति से दूर तो नही हो रहे।आज का ये प्रोग्राम देखने के बाद अपने हिंदी माध्यम से पढ़ने पर काफी गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ।

मुझे आज एक बड़े संयुक्त परिवार का सदस्य होने पर काफी गर्व महसूस हो रहा है और आज भी उस समय को याद कर रहा हूँ जब मैंने अपनी आठवी से दसवी कक्षा की पढ़ाई करते हुए साल 1988 से 1990 के बीच टेलिविज़न पर आए दो धार्मिक धारावाहिक रामायण और महाभारत को पहली बार देखा।

कहीं ना कहीं वो आज भी मेरे मन के पटल पर अंकित है।खैर बात करते है 20 सितंबर 2019 के धारावाहिक कौंन बनेगा करोड़पति की,माना कि आजकल हमारे पास समय नहीं है ये देखने का कि हमारे बच्चे टेलीविजन पर क्या देख रहे है परन्तु यदि सिर्फ हम उन्हें अपने परिवार के साथ ही जोड़े रखे तो अपने बड़े बुजुर्गों से उन्हें काफी पौराणिक ज्ञान मिलेगा।

अब बात करते है सिने तारिका सोनाक्षी जी के बारे में,सोनाक्षी सिन्हा जी के पिता जी का नाम शत्रुघ्न सिन्हा है और वो काफी समय से बतौर राजनीतिज्ञ काम कर रहे है और एक खास बात प्रभु राम के छोटे भाई का नाम भी यही है।अमिताभ बच्चन द्वारा पूछा गया एक सवाल कि रामायण में हनुमान जी संजीवनी बूटी किसके लिए लाए थे और सोनाक्षी जी का जवाब कभी राम और कभी सीता जी के लिए लाए थे।

खैर जैसे तैसे लाइफ लाइन की मदद लेते हुए सही जवाब दे ही दिया।यहाँ ये बताना जरूरी है कि सोनाक्षी जी के चाचा का नाम लक्ष्मण सिन्हा,राम सिन्हा और भरत सिन्हा है और सोनाक्षी जी के भाईयो का नाम लव एवं कुश सिन्हा है।लीजिये बातो ही बातों में सारे रामायण के किरदार इनके परिवार में ही मिल गए।लेकिन प्रोग्राम में पूछे गए एक प्रश्न में सोनाक्षी जी को ये भी नही मालूम था कि हनुमान जी संजीवनी बूटी किसके लिए लाए थे।

अभी मैं सोनाक्षी जी की इन्ही बातो से स्तब्ध था कि पता चला कि जिस घर में वो रहती है उसका नाम भी रामायण है।अब ऐसे लोगो को क्या कहा जाए जो सिर्फ दिखावे के लिए धार्मिक नाम रख लेते हैं बाकी उन नामो की वास्तविकता से उनका कोई वास्ता नही है।

धन्य है ऐसे लोग और धन्य है हम जैसे लोग जो इन्हें फॉलो भी करते है और इनकी फिल्में देखने के लिए हमेशा लालायित रहते है।

 

परिचय - नीरज त्यागी

पिता का नाम - श्री आनंद कुमार त्यागी माता का नाम - स्व.श्रीमती राज बाला त्यागी ई मेल आईडी- neerajtya@yahoo.in एवं neerajtyagi262@gmail.com ग़ाज़ियाबाद (उ. प्र)