गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

लब पे आहें नहीं और आँख में आँसू भी नहीं दिन करार से कटते हों मगर यूँ भी नहीं ============================== तुझे रोकूँ भी तो किस हक से मुझे तू ही बता तू मेरा दोस्त भी नहीं है और अदू भी नहीं ============================== कुछ मुझे भी कर दिया हालात ने पत्थर कुछ तेरी बात में वो […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

तेरी खुशी मेरे लिए आब-ए-हयात है सिमटी हुई तुझमें ही मेरी कायनात है ============================ रखा है निहां मैंने जिसे खाना-ए-दिल में किस्मत की तू वो बेशकीमती सौगात है ============================ मुमकिन नहीं कि तू हो मुकम्मल मेरे बगैर मेरे साथ चले या न चले और बात है ============================ कम नहीं दिया है किसी को भी खुदा […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

किसी के लब पे जब उल्फत की कहानी आई याद तब हमको कोई चोट पुरानी आई ============================ ख्वाहिशें, चाहतें, बेचैनियां, दीवानापन साथ कितनी बलाएं ले के जवानी आई ============================ साफगोई नहीं पसंद किसी को दुनिया में बात दिल की मगर हमें न छुपानी आई ============================ कोई पहरा कोई बंधन न रोक पाया उसे मिलने जब […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

राज़ ए दिल खुल जाता है चेहरे पे छाई बहार से किसी की खामोशियों से किसी के अशआर से ================================ रख के गिरवी दिल चुकाएँ सूद जिसमें साँसों का बाज़ आए हम तो ऐसे इश्क़ के व्यापार से ================================ ख्वाहिशें मिलती नहीं और हकीकतें जंचती नहीं आज भी लौट आए खाली हाथ हम बाज़ार से […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

आईना हाथ में जब भी कभी अपने उठाना तुम, पहले देख लेना खुद फिर मुझको दिखाना तुम, ============================== हजारों बार सोच लेना वादा करने से पहले, किसी से जब करो तो जान देकर भी निभाना तुम, ============================== तड़प कर आह भरने के लिए मजबूर हो जाए, किसी मासूम दिल को इस तरह से ना सताना […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

मुझको ए हमदम मेरे तुमसे है बस इतना गिला जब मिला मुझसे तू थोड़ा फासला रख के मिला ================================ चाहने वाले तुम्हारे हैं बहुत पर सोच लो तुम इतनी शिद्दत से तुम्हें और कौन चाहेगा भला ================================ जाम क्या है ज़हर भी पी लूँगा हंसते हंसते मैं शर्त इतनी सी है साकी अपने हाथों से […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

हालात के साँचे में न सोच कि ढल जाऊँगा कोई मौसम नहीं हूँ मैं जो बदल जाऊँगा ============================== न इतना फिक्रमंद हो तू मेरे बारे में वक़्त के साथ साथ खुद ही संभल जाऊँगा ============================== इरादे और पुख्ता होते हैं दुश्वारियों से गम की लौ से किस तरह पिघल जाऊँगा ============================== जहाँ तक सोच की […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

बेवजह मुस्कुराने की वो आदतें भी गईं साथ तेरे मेरी सब शरारातें भी गईं ============================ शहर छूटा, छूटे दोस्त-ओ-दुश्मन सारे मेरे नाम से बावस्ता तोहमतें भी गईं ============================ बंद होते ही आँखें फेर लिया मुँह सबने मुहब्बतें भी गईं और अदावतें भी गईं ============================ पास मेरे अब न वक़्त है न ही हिम्मत कैसे कह […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

बताऊँ कैसे तुझको मैं कहाँ था घर मेरा ख़त्म ही न हुआ उम्र भर सफर मेरा ============================== तूने देखा था मुझे जब अजनबी की तरह पल में जल गया था ख्वाबों का शहर मेरा ============================== यूँ तो रखता है सारी दुनिया की खबर लेकिन रहा मेरे हाल से ही यार बेखबर मेरा ============================== माला दिन […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

चलते हैं किसी ऐसी दुनिया में जहां कोई न हो एक तुम रहो, एक मैं रहूँ दरमियां कोई न हो ================================ आग में जलकर निखर जाता है सोना और भी क्या मज़ा है इश्क़ का गर इम्तिहां कोई न हो ================================ हर कोई है मगरूर तेरे शहर में जिससे मिलो एक शख़्स ऐसा नहीं जिसको […]