समाचार

राष्ट्रकवि दिनकर की पुण्य तिथि पर आयोजित अंतस् की 33 वीं काव्य गोष्ठी

24 अप्रैल को ऑनलाइन आयोजित अंतस् की 33 वीं काव्य गोष्ठी में राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर को उनकी पूण्य तिथि पर स्मरण किया। मर्त्य मानव की विजय का तूर्य हूँ मैं उर्वशी अपने समय का सूर्य हूँ मैं इन जैसी असंख्य अविस्मरणीय पंक्तियों के रचयिता दिनकर जी को तथा गत सप्ताह में गोलोक को सिधारीं […]

संस्मरण

दिन में तारे दिख जाना

बिटिया ऑफ़िस के लिए निकल चुकी थी| पतिदेव भी नाश्ता कर चाय पी रहे थे| मैं अपने लिए हल्की सब्जी बना रही थी रसोई में। ‘बड़ी बीमारी’ की तो दवा ले चुकी थी बस शुगर(मधुमेह) की दवा लेने की सोच ही रही थी कि साहब बोले, “अच्छा जा रहा हूँ”| गैस की लौ मंदी कर […]

समाचार

आज़ादी का अमृत महोत्सव- वासंती बयार, होली की फुहार-अंतस् की 31 वीं गोष्ठी

‘स्वर ज्ञान दे, लय ज्ञान दे/ हर छन्द का विज्ञान दे’ मनोहारी वागीश्वरी-वंदना के साथ अंतस् की इकत्तीसवीं काव्य-गोष्ठी का शुभारम्भ किया बिहार के संगीत-शिक्षक, कवि राम लोचन ने| संस्था की अध्यक्ष पूनम माटिया ने अंतस् की गतिविधियों से परिचय करवाते हुए सञ्चालन का विधिवत आरम्भ किया| वरिष्ठ साहित्यकार डॉ आदेश त्यागी ने अपने अध्यक्षीय […]

समाचार

रमा शर्मा के सम्मान में काव्य गोष्ठी

10 दिसंबर शुक्रवार को, अंतस् की 29वीं काव्य गोष्ठी का आयोजन सुश्री रमा शर्मा के सम्मान में, निगम पार्षद, गुंजन गुप्ता के कार्यालय, विज्ञान विहार, दिल्ली में किया गया। अनेक स्थापित व नवोदित कवियों ने काव्य पाठ किया। संस्था अध्यक्ष डॉ पूनम माटिया ने बताया, “आयोजन में अभी हाल ही में हेलीकाप्टर हादसे में शहीद […]

समाचार

पूनम माटिया को शान-ए-ग़ज़ल सम्मान

परवाज़-ए-ग़ज़ल समूह के बैनर तले आयोजित काव्य गोष्ठी/विमोचन समारोह में शान ए ग़ज़ल सम्मान से नवाज़ा गया दिल्ली की कवयित्री व शायरा अंतस् संस्था की अध्यक्ष सुश्री पूनम माटिया तथा अन्य कई शायर-शायरात को| ज्ञात हो कि शनिवार, दिनाँक 13 नवम्बर 2021 को दिल्ली के आई.टी.ओ. स्थित हिंदी भवन में परवाज़-ए-ग़ज़ल समूह के बैनर तले […]

समाचार

श्रीराम काव्यपाठ  प्रतियोगिता 

राष्ट्रीय कवि संगम उत्तरी दिल्ली प्रांत द्वारा, श्री राम काव्यपाठ  प्रतियोगिता का आयोजन, 16 अक्टूबर 2021 को साईं भवन आदर्श नगर, दिल्ली में किया गया । इस प्रतियोगिता में बड़ी संख्या में प्रतिभागियों ने भाग लिया, जिसमें छः प्रतिभागियों को क्षेत्रीय प्रतियोगिता के लिए चुना  गया । प्रांतीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान  रोहिणी से आठ वर्षीय रूद्रा […]

समाचार

तुलसीदास केंद्रित अंतराष्ट्रीय तरंग संगोष्ठी : शाश्वत है तुलसी साहित्य

हिंदी प्रचारिणी सभा,अलीगढ़ एवं विश्व संस्कृत हिंदी परिषद, नई दिल्ली के संयुक्त तत्वावधान में “वर्तमान परिप्रेक्ष्य में तुलसी साहित्य की प्रासंगिकता”विषय पर एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता हंडिया पी.जी. कॉलेज, प्रयागराज के पूर्व प्राचार्य डॉ सभापति मिश्र ने की, मुख्य अतिथि के रूप में डॉ तालकेश्वर सिंह, पूर्व आचार्य एवं […]

गीतिका/ग़ज़ल

ग़ज़ल-एक अलग कलेवर में 

सुब्ह-सवेरे करते लड़ाई, जान पे मेरी आफ़त आई छोड़ दो अब तो मान लो कहना, होती न इसमें कोई भलाई सास तो चुन कर दुल्हन लाई, राम-सिया-सी जोड़ी बनाई सोचने बैठे बाद में हम तो, राम की सीता क्या सुख पाई चम-चम चमके दुल्हन-दुल्हा, दाँत तले सब उंगली दबाई एक है मक्खन, एक मलाई, राम ने जोड़ी ख़ूब मिलाई मेरी बहिन […]

गीतिका/ग़ज़ल

ग़ज़ल

ख़ुद ही रोयें, ख़ुद मुस्काने लगते हैं इश्क़ में डूबे लोग दिवाने लगते हैं चार ही लोगों का क़िस्सा है सारे दिन जब चाहे वे बात बनाने लगते हैं आकर बैठो पास मेरे और सुन लो तुम कैसे-कैसे ख़्वाब सताने लगते हैं जगते हैं दिन-रात न जाने क्यों ये लोग मुझको तो ये लोग दिवाने […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

मौन- चिंतन-मनन की स्थिति 

धरती से ज़रा सा ऊपर उठकर देखा तो बड़े हिस्से पर बादलों के कारण कहीं-कहीं  गहरा कालापन और कहीं तेज रौशनी नज़र आई  क्योंकि सूर्य की धूप और धरती के बीच गहरे बादल छाया के लिए ज़िम्मेदार हुए। थोड़ी ही देर में विमान रूपी मेरा तन-मन  ऊँचाई पा गया और बादलों के निकट पहुँच गयी […]