धर्म-संस्कृति-अध्यात्म

धार्मिक दुकानों, मृत्युभोज और महंगी शादियां पर लगे प्रतिबन्ध

कोरोना महामारी ने  जहाँ पूरी दुनिया में उथल-पुथल मचा दी है। सब कुछ एक जगह रोक कर रख दिया है।   दुनिया प्रकृति के इस कहर पर स्तब्ध है।   मगर हम दूसरी तरफ देखे तो हमें कुछ सृजनात्मक करने और इस आपदा से नए अवसरों के साथ अपनी सोच और कर्मों को बदलने की […]

राजनीति

भारतीय सेना की तरह पुलिस पर भरोसा क्यों नहीं है?

देश भर में हम आये दिन पुलिस द्वारा हिरासत में लिये गए लोगों की मृत्यु और यातना की घटनाों को सुनते हैं जिसके फलस्वरूप पुलिस की छवि पर दाग लगते है। यही नहीं अपराधी प्रवृति के लोगों में पुलिस के प्रति क्रूरता जन्म लेती है। उत्तर प्रदेश और हरियाणा में अभी-अभी पुलिस वालों के साथ […]

इतिहास

निजी स्कूलों को नियंत्रित कर सरकार शिक्षकों की भर्ती करे

निजी स्कूलों को नियंत्रित कर सरकार शिक्षकों की भर्ती करे  ★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★ ( प्राइवेट पंजों से निकल राज्य के अधीन हो पूरी शिक्षा व्यवस्था, निजी स्कूलों के नेटवर्क पर लगाम लगानी होगी ) ✍ प्रियंका सौरभ  दरअसल सरकारी स्कूल फेल नहीं हुए हैं बल्कि यह इसे चलाने वाली सरकारों, नौकरशाहों और नेताओं का फेलियर है. सरकारी स्कूल […]

इतिहास

अब साइबर अपराध देश के सामने नई चुनौती

–प्रियंका सौरभ हम जितनी तेज़ी से डिजिटल दुनिया की ओर बढ़ रहे हैं, उतनी ही तेज़ी से साइबर अपराध की संख्या में वृद्धि हो रही है। कोरोना के समय में ऑस्ट्रेलिया की संचार प्रणाली पर हुआ साइबर हमला है, संचार प्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगता है। इसी बीच अब साइबर विशेषज्ञों ने भारत में भी […]

पर्यावरण

मरुस्थलीकरण और सूखा : दुनिया के समक्ष बड़ी चुनौती

मरुस्थलीकरण जमीन के खराब होकर अनुपजाऊ हो जाने की ऐसी प्रक्रिया होती है, जिसमें जलवायु परिवर्तन तथा मानवीय गतिविधियों समेत अन्य कई कारणों से शुष्क, अर्द्ध-शुष्क और निर्जल अर्द्ध-नम इलाकों की जमीन रेगिस्तान में बदल जाती है। अतः जमीन की उत्पादन क्षमता में कमी और ह्रास होता है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेश ने ‘विश्व […]