लघुकथा

इंसाफ

  ” साहब ! इंसाफ करो साहब हमारे साथ ! मेरी बेटी का …..! ” ” क्या हुआ तेरी बेटी के साथ ? ” ” कॉलेज से घर लौटते हुए तीन लड़कों ने मेरी बेटी के साथ जबरदस्ती किया ! ” ” कौन थे वो लड़के ? ” ” विधायक श्यामाचरण का बेटा विद्याचरण और […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग -59 )

सेठ अम्बादास ने अपनी कहानी जारी रखी ! ” हमेशा की तरह इस बार भी हम छुट्टियाँ मनाने के लिए अमेरिका गए हुए थे । किसी आवश्यक कार्य की वजह से मैं जल्दी वापस आ गया था भारत अकेले । मेरी पत्नी और बेटी दोनों अपनी छुट्टियाँ कम नहीं करना चाहती थीं । दोनों वहीं […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग -58 )

नजदीक आकर सेठ शोभलाल ने एक विजयी मुस्कान बृन्दादेवी की तरफ उछाली और बड़ी खुश मुद्रा में उनकी बगल में जाकर बैठ गए । उन्हें खुश देखकर बृन्दादेवी की मुखमुद्रा भी मुस्कान युक्त हो गई । उसकी बगल में बैठते हुए सेठ शोभालाल बोले ,” आज तो लगता है मैं भगवान से स्वर्ग भी माँगता […]

कहानी

टिल्लू

टिल्लू ( चित्र आधारित कहानी ) जब से आतंकियों के हमले में बारह जवानों के शहादत की खबर टिल्लू ने सुनी थी , पाकिस्तान के प्रति उसकी नफरत सातवें आसमान पर पहुँच गई थी । उसकी भुजाएँ फड़क उठी थीं । उसका दिल कर रहा था अभी सीमा पर जाए और भून डाले उन शैतानों […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग -57 )

ममता की परीक्षा ( भाग – 57 ) सेठ शोभालाल डॉक्टर के कक्ष में चले गए थे उनसे अपनी योजना के मुताबिक बात करने । अब वहाँ अस्पताल की लॉबी में बृन्दादेवी के अलावा जमनादास ही अकेला बैठा हुआ था । जमनादास का युवा मन उन दोनों की बातें सुनकर खुद को धिक्कार रहा था […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग -56 )

ममता की परीक्षा ( भाग – 56 ) गोपाल की तंद्रा टूटी तो उसने अपने आपको अस्पताल के एक बिस्तर पर पड़े पाया । यह कोई स्पेशल वार्ड था जिसमें उसका इकलौता बेड लगा हुआ था और बगल में दवाईयों की मेज भी थी जिनपर कई तरह की दवाइयाँ भी रखी हुई थीं । नजदीक […]

लघुकथा

नजरिया

नेताजी ने अपना फेसबुक स्टेटस अपडेट किया । पोस्ट डाली ‘ विरोधियों के हौसले पस्त । नामी नचनिया ‘ कमली ‘ के चरणों में पूरा विपक्ष । विपक्ष अब नचनियों की पार्टी बनकर रह गई है !’ अगले दिन नेताजी को हाइकमान से जानकारी मिली ‘ कमली ‘ अपनी पार्टी जॉइन करने वाली हैं । […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग – 55 )

ममता की परीक्षा ( भाग – 55 ) साधना बड़ी देर तक तकिए में मुँह छिपाए सिसकती रही । बाहर खटिये पर बैठे मास्टर रामकिशुन भी कुछ बेचैनी की अवस्था में बैठे हुए थे । रह रहकर उनकी नजर बरामदे में एक खूँटी से लटके लालटेन पर पड़ जाती जो कि उसका इस्तेमाल किये जाने […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग – 54 )

ममता की परीक्षा ( भाग – 54 ) घर के लिए वापस आते हुए साधना को ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे उसके पैरों में मनों वजनी कोई भार बांध दिया गया हो । एक एक पग उठाने के लिए उसे खासी मशक्कत करनी पड़ रही थी । गाँव वाले उससे सहानुभूति के साथ दिलासा […]

उपन्यास अंश

ममता की परीक्षा ( भाग – 53 )

ममता की परीक्षा ( भाग -53 ) गोपाल साधना के साथ गाँव के नुक्कड़ पर पहुँचा जहाँ डॉक्टर बलराम सिंह की डिस्पेंसरी थी । डॉक्टर बलराम समय के पाबंद थे सो सही समय पर आ गए थे । डिस्पेंसरी के बाहर मरीजों की कतार लगी हुई थी । डॉक्टर बलराम अंदर के हिस्से में किसी […]