Author :

  • कविता

    कविता

    बर्षा की फुहारो से पानी की झनकारो से हवा -भरी तुफानों से गरज-गरज कर घुमड़ रहे है रिमझिम – रिमझिम बरसे सावन! धुल भरी पतवारो से सुगंधित पुष्प लताओ से लता ओट मे छिपकर के झम-झम...

  • माँ

    माँ

    *माँ* तेरी मुस्कान मिझे याद है तु कितनी भोली हो तु करूणा की मूर्ति हो! माँ तुम दुख मे धीरज रखने वाली हो तेरी हर सांस में प्यार है! माँ तु अनमोल हो तु सागर हो...

  • कहमुकरी छंद

    कहमुकरी छंद

    प्रीत मिलन की याद सतावे दे दो दर्शन प्यास बुझावे उनके बिन कुछ भी न भाता ए सखि साजन? ना सखि यारा! — बिजया लक्ष्मी परिचय - बिजया लक्ष्मीबिजया लक्ष्मी (स्नातकोत्तर छात्रा) पता -चेनारी रोहतास सासाराम...

  • गजल

    गजल

    सजन तेरी याद हमे जीने न देती जीने ना देती हो , सजन तेरी……. जब से तेरी मै पहनू माँग मे सिंदूर जब से तेरी मै पहनू माथे पर बिंदी तब से हुई मै दीवानी सजन...

  • विरह वर्णन

    विरह वर्णन

    प्रीत मिलन की आस लगी है कब आओगे – कब आओगे मधुर मिलन की आस लगी है कब आओगे कब आओगे! आप न हो तो ,सब सपने अधुरे आप के आने से ,ख्वाइसे सब पूरे बरसे...

  • अटल जी को शत-शत नमन

    अटल जी को शत-शत नमन

    किस कदर चाँद तारों का आना हुआ, किस कदर कारवाँ का भी जाना हुआ, हम जमाने की कलियाँ , खिलाते गये, हर जमाने मे कोई मुक्कदर बना किस कदर कारवाँ का भी जाना हुआ.! ऐसी भोली...

  • वर्षा ऋतु आयी है

    वर्षा ऋतु आयी है

    वर्षा ऋतु आयी है सबका जी डराई है कहीं- कहीं सूखा का डर कही – कही है बाढ़ का भय नदी तालाब उफन रही है बादल उमड़ घुमड़ रहें है चारो तरफ शैलाब भरा है चारों...

  • वर्षा रानी

    वर्षा रानी

    वर्षा रानी तुझे बुलावा संसार मे आया है धरती सूखी, नदियाँ सूखी, नहरें सूखी आकाल है! जीवों का संसार है ईश्वर जीवन दाता आप है भरण करना पोषण करना आपका उपकार है! खेतों मे दरारें पड़...

  • पर्यावरण

    पर्यावरण

    आओ बच्चे पेड़ लगाएँ मिलजुल कर के साथ मे, स्वच्छ -भारत, सुंदर भारत रहे स्वच्छ परिवार मे! वायु प्रदुषण बढ़ता है, पेड़ों के आभाव मे, शुद्ध – शुद्ध हवाएँ आती, पेड़ों के बागान से, जल -प्रदुषण...

  • मौसम

    मौसम

    कितना सुहाना मौसम है हरा – भरा हरियाली है! रिमझिम बारिस की बूंदे झम-झम अवनि पर बरसे! छिपी धरती के सब बीज नव अंकुर हो जाते हैं! खेतों मे भी बनी क्यारियाँ धान – फसल भी...