यात्रा वृत्तान्त

रेल यात्रा या जेल यात्रा

ट्वीटर से समस्या समाधान के शुरूआती दौर में मुझे यह जानकार अचंभा होता था कि महज किसी यात्री के ट्वीट कर देने भर से रेल मंत्री ने किसी के लिए दवा तो किसी के लिए दूध का प्रबंध कर दिया। किसी दुल्हे के लिए ट्रेन की गति बढ़ा दी ताकि बारात समय से कन्यापक्ष के […]

यात्रा वृत्तान्त

जर्मनी (यूरोप) की नदियाँ इतनी साफसुथरी क्यों ? एक निष्पक्ष समीक्षा (यात्रा संस्मरण)

जर्मनी की नदियों को वहाँँ के लोग बहुत ही हिफाज़त से रखे हैं, वहाँ की नदियाँ इतनी साफ-सुथरी हैं, कि आप उनके पानी को प्यास लगने पर निर्भय होकर पी सकते हैं। वहाँ हम लोग जर्मनी के सेक्सनी राज्य में बहने वाली एल्ब नदी के किनारे गये थे, जर्मनी के इस प्रसिद्ध शहर ड्रेसडेन के […]

यात्रा वृत्तान्त

कश्मीर यात्रा : एक अनुभव

जुलाई के दूसरे सप्ताह में हमने अपने कुछ रिश्तेदारों के साथ कश्मीर का भ्रमण किया। कश्मीर में आतंकवादी घटनायें लगभग समाप्त हो जाने के कारण हमने यह हिम्मत की और ईश्वर की कृपा से यात्रा निर्विघ्न सफल रही। कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी होगी, इसका अनुमान हमें था, लेकिन इतनी कड़ी होगी इसकी कल्पना नहीं […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म पर्यावरण यात्रा वृत्तान्त लेख सामाजिक

मेघालय की राजधानी शिलॉंग – पर्यटन के लिए बेहतर

मेघालय यानी ‘मेघों का आलय’ ‘मेघों का घर’. जंगल और पहाड़ों के बीच बसा मेघालय बड़ा ही रमणीक है. गर्मी की छुट्टियों में सपरिवार वहां जाना और विभिन्न प्राकृतिक दृश्यों का अवलोकन करना स्वयं को आनंदित कर देता है. यहाँ के झरने, गुफाएं, घाटियाँ, पहाड़ों पर बने साफ़ सुथरे मकान, पर्वतों की ऊँचाइयाँ, मन को […]

धर्म-संस्कृति-अध्यात्म यात्रा वृत्तान्त लेख

बुद्ध स्मृति पार्क, पटना

बिहार की राजधानी पटना बहुत सारे मामलों में कुछ खास है. यहाँ रेलवे स्टेशन पर जैसे ही उतरेंगे आपको बहुत ही खूबसूरत और ऊंचा श्री महावीर हनुमान मंदिर मिलेगा. वहां आपको लिखा हुआ दिख जाएगा- प्रबिसि नगर कीजे सब काजा। हृदयँ राखि कोसलपुर राजा॥. इस प्राचीन हनुमान मंदिर का जीर्णोद्धार और पुनर्निर्माण उस १९८०-८५ में […]

यात्रा वृत्तान्त

यात्रावृत्त – मेला

प्रकृति की नैसर्गिक सुषमा का अवलोकन करना किसको नहीं भाता ,मुझे भी बहुत लुभाती है यह प्रकृति | विवाह के बाद प्रत्येक वर्ष जून में हम भारत के किसी न किसी प्रांत का भ्रमण अवश्य करते ,बात 2009 की है हम पूर्वोत्तर भारत के राज्य असम आये यहाँ गुहाटी में हम रुके यहीं से मेघालय […]

यात्रा वृत्तान्त

बनरघट्टा राष्ट्रीय उद्यान, बंगलोर की सैर

प्रकृति एक महान स्रोत है, जो हर प्रकार के पदार्थों, वनस्पतियों और जीवों का निर्माण करती है और उन्हें विकसित होने के लिए उन्ही के अनुसार हर प्रकार का अनुकूल वातावरण भी प्रदान करती है. इस ब्रहमांड के बारे में भी बहुत कुछ हम जानते हैं, जानने की कोशिश करते हैं, काफी कुछ समझ पाते […]

यात्रा वृत्तान्त

एक अविस्मरणीय यात्रा

बात तीन साल पहले की है, पर.. ऐसा लगता है जैसे कल ही की बात है। भुलाए नहीं भूलती, मेरे मानस पटल पर उस यात्रा का चित्र ऐसे अंकित है, जिसे सोच कर केवल मन को ही नहीं, पूरा शरीर को रोमांचित कर जाता है। जीवन में पहली बार उस दृश्य का साक्षात दर्शन किया […]

यात्रा वृत्तान्त

यात्रा संस्मरण – शिवाना समुद्रम

जब जैन धर्म में चतुर्मास शुरू होता मुझे प्रवास के लिए समय मिलता सदा। इस वर्ष फिर महाराष्ट्र, कर्नाटक जाना हुआ। इसी श्रृंखला में बंगलुरू से 135 किलोमीटर की दूरी पर मंड्या के छोटे से गाँव मलवल्ली में शिवसमूद्रम प्रपात जाना हुआ। शिव समुद्रम प्रपात कावेरी नदी पर है ।98 मीटर की ऊँचाई से जल […]

यात्रा वृत्तान्त

रेल की खिड़की से शहर-दर्शन

किसी ट्रेन की खिड़की से भला किसी शहर के पल्स को कितना देखा – समझा जा सकता है। क्या किसी शहर के जनजीवन की तासीर को समझने के लिए रेलवे ट्रेन की खिड़की से झांक लेना पर्याप्त हो सकता है। अरसे से मैं इस कश्मकश से गुजर रहा हूं। जीवन संघर्ष के चलते मुझे अधिक यात्रा का अवसर […]