Category : ब्लॉग/परिचर्चा



  • एक दम अच्छी बात !

    एक दम अच्छी बात !

    एकदम अच्छी बात करने का मन कर रहा है, मतलब नो आलोचना… नो कमेंट..और नो राजनीतिक बातें… हाँ तो पहला यह कि, हमारे देश की जनसंख्या सवा अरब से ऊपर हो रही है, विविध मत-मतान्तरों के...



  • नीतीश बाबु की रहस्यमय चुप्पी

    नीतीश बाबु की रहस्यमय चुप्पी

    राजनीति भी अजीब चीज है. इसमें उठापटक चलती रहती है. जहाँ कांग्रेस के भ्रष्टाचार के बाद मोदी जी एक सर्वमान्य नेता के रूप में उभरे और देखते-देखते दुनिया पर छा गए. इधर पड़ोसी देश खासकर पाकिस्तान...


  • अर्थ ऋषि – चार्टर्ड अकाउंटेंट

    अर्थ ऋषि – चार्टर्ड अकाउंटेंट

    “शास्त्रों में चार पुरुषार्थ बताए गए हैं, जिसमें अर्थ, धर्म, काम और मोक्ष शामिल हैं. चार्टर्ड अकाउंटेंड अर्थजगत के ऋषि-मुनि हैं, जो इस अर्थ के क्षेत्र में लोगों को मार्ग दिखाते हैं.” यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र...

  • किसानों का कर्ज माफी – एक फैशन?

    किसानों का कर्ज माफी – एक फैशन?

    केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने मुंबई में बयान दिया है – “किसानों की कर्ज़ माफ़ी फ़ैशन हो गया है”. कहीं इससे प्रभावित होकर उनकी पार्टी के मुख्यमंत्री देवेंद फडणवीस कर्ज़ माफ़ी का अपना फ़ैसला...

  • बाल मजदूर

    बाल मजदूर

    कल सिनेमाघर में एक फिल्म देखी !! नाम था “बैंक चोर” फिल्म के शुरुआत में ही एक ऐसा दृश्य देखने को मिला जिससे कि मन चिंतित हो उठा। पता लग गया कि इस प्रकार की फिल्मों...