Author :


  • लघुकथा- लाज का पर्दा

    लघुकथा- लाज का पर्दा

    डगमगाते बच्चों को देख मां का आंचल तार-तार हो जाता है. समझाने की पूरी जिम्मेदारी भी उसीके जिम्मे आती है. ”अविश्वास की नैय्या पर सवारी करोगे, तो डगमगाहट तो होनी ही है न!” मां ने कहा.”तो फिर...

  • कमाल के किस्से-19

    कमाल के किस्से-19

    ये कमाल क्या है? कमाल क्यों होता है? कमाल कब होता है? कुछ पता नहीं, पर हो जाता है. चलिए आज हम फिर कमाल की ही बात कर लेते हैं. इस बार प्रस्तुत हैं रविंदर भाई...

  • प्रार्थना

    प्रार्थना

    आज मंगरू को खुद अपने पर प्रसन्नता हो रही थी या अपनी प्रार्थना की सफलता पर, वह समझ नहीं पा रहा था, फिर भी वह मन-ही-मन बार-बार भगवान का शुक्रिया अदा कर रहा था, जिसने उसकी...

  • विवेक

    विवेक

    आज उसका नया नामकरण हुआ था. उसका नाम रखा गया था- विवेक. इसी उपलक्ष में आज उसको छुट्टी मनाने की छूट भी मिली थी. 25 साल में पहली छुट्टी. इससे पहले उसे पता नहीं था कि...

  • कैलाश भटनागर: एक सच्ची फ़नकार- 1

    कैलाश भटनागर: एक सच्ची फ़नकार- 1

    ”संयोग पर संयोग-7” के एक कामेंट में रविंदर भाई ने लिखा था- ”आदरणीय बहन जी, लोग जब कैनवास देखते हैं, प्रकति की सुंदरता को, कलाकार की कृति को देखते हैं, मैं केनवास बनाने वाले को, सुन्दरता...

  • ”अभिशप्त कौन?”

    ”अभिशप्त कौन?”

    रूपेश को आज अपनी नई कहानी के लिए शीर्षक ”अभिशप्त कौन?” मिल गया था और प्रस्तुति की संकल्पना भी. स्मृति के वातायन से शीतल हवा का झोंका उसे सहला रहा था. उसकी स्मृति का वातायन उसके...

  • आज की द्रोपदियां

    आज की द्रोपदियां

    कृष्ण लाल कपूर एक्यूप्रेशर और होम्योपैथी के जाने-माने डॉक्टर थे. यों तो कई मानसिक रोगियों का इलाज भी वे सफलतापूर्वक कर चुके थे, पर आज एक महिला उसको ही मानसिक रोगी का खिताब देकर गई थी,...

  • फिर सदाबहार काव्यालय-4

    फिर सदाबहार काव्यालय-4

    मैंनूं कुछ कहणा है (भाषा- पंजाबी, आगे हिंदी अनुवाद) मैं छोटा सी ते पिण्ड विच रहंदा सी घर कच्चे सन, ते प्यार पक्के सन पिण्ड दे सारे चाचे-चाचियाँ मैनूँ पुत्तर-पुत्तर कहंदे सन मैं कदे किसी दे...

  • कमाल के किस्से-18

    कमाल के किस्से-18

    ये कमाल क्या है? कमाल क्यों होता है? कमाल कब होता है? कुछ पता नहीं, पर हो जाता है. चलिए आज हम फिर कमाल की ही बात कर लेते हैं. पहले प्रस्तुत हैं कमाल के किस्से...