कविता

कहां वो स्वर्ग

कहां वो स्वर्ग सी सुंदर धरती कहां हो पुष्पों से भरी वाटिका, हिमालय की कोख में बसी श्यामल गात्र सुंदर वीथिका। झेलम की नीर पग पखारती कल कल ध्वनि करती हुई, सिंचित करती वादियों को बहती इतराती इठलाती हुई। शीतल समीर निकल जाता पुष्पों से भीनी सुगंध लेकर, चहुं दिशा बिखर जाता इत्र अप्सरा धरती […]

कविता

अभिनंदन

अभिनंदन का अभिनंदन है। दुश्मन के बल का मर्दन है। छिपा सका कब कोई भला दिनकर के अखंड तेज को।। सत्य झुकता नही चाहे हो कितनी कठिन परिस्थितियों में। शेरों के शमशेर है हमारे सैनिक हरा नही सकता पाक घेरे में भी।। रण हो या फिर हो दुश्मन की भूमि हारते नही थकते नही सच्चे […]

गीत/नवगीत

होली पर एक प्रार्थना

इस होली पर एक प्रार्थना हर एक बशर से करता हूँ। अच्छी लगे आप भी करिये आशा सबसे  करता हूँ। जो शहीद हो गए देश की रक्षा हितबलिवेदी पर , घर मे राह देखती पत्नी बहन पिता बच्चे रोकर, उनकी माता पत्नी परिजन को शत वंदन करता हूँ। इस होली पर एक प्रार्थना हर एक […]

हास्य व्यंग्य

हींग लगे न फिटकरी

पाकिस्तानियों ! इमरान ख़ान को गालियाँ मत दो। हिन्दी में कहावत है-“हींग लगे न फिटकरी रंग भी चोखा आए” अर्थात् बिना कोई प्रयास के काम संपन्न हो गया। बेचारा पाकिस्तान की आर्थिक बदहाली के कारण आतंकवादियों पर गोला-बारूद खर्च नहीं कर सकता। उसने यह खर्च बचा लिया। आतंकवादी, मुसलमान हैं। धर्म के आधार पर उसके […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

दामन तेरा अश्कों से भिगोया नहीं गया रोने का मन तो था मगर रोया नहीं गया आँखों के समंदर में तैरते रहे गुहर एहसास को लफ्ज़ों में पिरोया नहीं गया क्या कह दिया न जाने तुमने मेरे कानों में पूरी शब पहली दफा सोया नहीं गया उगेंगे साएदार शजर कैसे राहों में एक पौधा हमसे […]

गीतिका/ग़ज़ल

गज़ल

दबा के रखो न दिल में सवाल जो भी हो कि चारागर से न छुपेगा हाल जो भी हो इश्क जब हो ही गया है तब परवाह कैसी नतीजा इसका हिज्र या विसाल जो भी हो तू साथ है तो मुझे कुछ फर्क नहीं पड़ता मेरे बारे में लोगों का ख्याल जो भी हो ज़िंदगी […]

अन्य लेख

ठक-ठक, ठक-ठक-10

ठक-ठक, ठक-ठक-1 ”ठक-ठक, ठक-ठक”. ”कौन है?” ”मैं हूं पत्रकार.” ”कौन-से पत्रकार?” ”एकता का पत्रकार.” ”एकता, यानी एकता कपूर?. ”आपके मन में एकता कपूर बस रही है तो आप वही समझिए, वैसे मैं देश की एकता का पत्रकार हूं. फिर आजकल तो एकता कपूर के न्मन में भी देश की एकता हिलोरें ले रही होगी.” ”सही […]