Category : गीत/नवगीत

  • गीत : गौरव चौहान

    गीत : गौरव चौहान

    (सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो आने के बाद सबूत मांगने वाले नेताओं को धिक्कारती कविता) सत्य शौर्य साहस को छल बतलाने वाले नेता सुन सर्जीकल को फर्जीकल बतलाने वाले नेता सुन सुन कानों को खोल गरजती बंदूकों...

  • समकालीन गीत

    समकालीन गीत

    धुंध हो गया सारा जीवन,कुछ भी नज़र नहीं आता ! आशाएं अब रोज़ सिसकतीं,कुछ भी नज़र नहीं आता !! बाहर भी है,अंदर भी है, सभी जगह कोहरा छाया न तुम सुधरे,न हम सुधरे, कुछ भी संवर...

  • भारत होगा रंग-बिरंगा

    भारत होगा रंग-बिरंगा

    आओ अपने देश की तुमको, कुछ-कुछ बात बताएं, भारत इसका नाम है प्यारा, इसकी कथा सुनाएं, इसी देश में सबसे पहले, गूंजा गीता-ज्ञान था, रामायण-से ग्रंथ के कारण जग में इसका मान था. वीर थे बाल-युवा-वृद्ध...


  • क्यों न लगाएं आसन मेला?

    क्यों न लगाएं आसन मेला?

    आई योग दिवस की वेला, क्यों न लगाएं आसन मेला क्यों न लगाएं आसन मेला, आया समय बड़ा अलबेला-आई योग दिवस—— रोग निवारण करने वाला योग ही हैSSS जीवन सबल बनाने वाला योग ही हैSSS आया...

  • तू हमको क्षमा करना

    तू हमको क्षमा करना

    यह विनती है दयानिधान, तू हमको क्षमा करना हम हैं तेरी संतान, तू हमको क्षमा करना-   हमने सुना दया का सागर भरने दे हमको भी गागर हे प्रभु दयानिधान, तू हमको क्षमा करना- क्षमा है...


  • गीत – विश्व योग दिवस : 21 जून

    गीत – विश्व योग दिवस : 21 जून

    है  “विश्व  योग  दिवस” आज, नेक  काम  कर लो। कुछ  कसरतें,  श्वसन-क्रियायें, प्राणायाम  कर लो।। हैं  योग  की   ये  शक्तियां   नायाब   दोस्तो । हर रोज़  योग-आसनों को  तुम किया  करो। तप-योग से  हर  रोग का  क़िस्सा...

  • हम योग-दीवाने हैं

    हम योग-दीवाने हैं

    योग दिवस 21 जून पर विशेष हम योग-दीवाने हैं, दुनिया को दिखा देंगे हम योग की महिमा को, सारे जग को सिखा देंगे- संजीवनी बूटी बन, तन-मन को योग जोड़े हर रोग हटे इससे, हम सबको...

  • गीत – धुंधली तस्वीरें

    गीत – धुंधली तस्वीरें

    धुंधली धुंधली तस्वीरें है धुंधला जीवन का खेल हुआ जब उम्र ढली तब पता चला कैसे लोंगो से मेल हुआ–!! लड़खड़ाया बचपन जब तेरा मेरे हाथ तेरी बैसाखी थे जवान हुई तेरी राहें मेरे नैन दिया...