Category : लेख






  • स्वामी अग्निवेश जी के नाम खुला पत्र

    स्वामी अग्निवेश जी के नाम खुला पत्र

    दिनांक 2 जनवरी, 2019 के हिंदुस्तान हिंदी समाचार के दिल्ली संस्करण में “लैंगिक समानता के लिए जुड़े हाथों से हाथ” शीर्षक से समाचार प्रकाशित हुआ जिसमें स्वामी अग्निवेश जी को केरल के तिरुवनंतपुरम में “वीमेन वाल”...


  • संस्कृत अर्थ-साधक भी है

    संस्कृत अर्थ-साधक भी है

    ओस्वामी वेदानन्द (दयानन्द) तीर्थ जी ने ‘हम संस्कृत भाषा क्यों पढ़ें?’ शीषर्क से एक पुस्तक लिखी है। इसका प्रकाशन ‘विरजानन्द वैदिक संस्थान, गाजियाबाद’ से सन् 1973 में हुआ था। पुस्तक में कुल 40 पृष्ठ हैं। यह...