Category : बालोपयोगी लेख

  • आइए कविता लिखना सीखें- 3

    आइए कविता लिखना सीखें- 3

    प्रिय बच्चो, होली मुबारक हो, कविता-लेखन के प्रयास में आइए सबसे पहले होली पर कविता की कुछ पंक्तियां देखते हैं- होली- होली का हुड़दंग है, बज रही मृदंग है, जिधर नज़र जाती है अपनी, दिखते रंग-ही-रंग...


  • चिड़िया

    चिड़िया

    पहले मैंने अपने को ही दीन हींन था जाना, इकदिन मैंने भोर मे देखा चिड़ा चिड़ी को जगाना। चीं चीं चूँ चूँ की आवाज चिड़ा चिड़ी को सुनाना, अंगड़ाई लेकर घरसे झाँका चिड़ी,चिड़ा पहचाना। फिर मैं...

  • आइए कविता लिखना सीखें- 2

    आइए कविता लिखना सीखें- 2

    प्रिय बच्चो, सदा खुश रहिए, पिछले महीने हमने कविता-लेखन का एक नया प्रयास शुरु किया था. आशा है, आपने इस प्रयास से कुछ सीखा होगा और कविता की कुछ पंक्तियां मन में सोची होंगी. हमारे एक...


  • सबका “पिता” एक है

    सबका “पिता” एक है

    प्रिय बच्चो, सदा खुश रहो, आज बाल दिवस यानी चाचा नेहरू जयंती भी है और गुरु पर्व यानी गुरु नानक जयंती भी. कल आपने स्कूल में धूमधाम से बाल दिवस के उपलक्ष में बाल मेला मनाया...

  • इंटरनैशनल इंटरनेट डे

    इंटरनैशनल इंटरनेट डे

    प्रिय बच्चो, सदा खुश रहो, आज इंटरनैशनल इंटरनेट डे (29 अक्टूबर) है. हमारी जिंदगी में इंटरनेट की अहमियत निर्विवाद है. इंटरनेट के कारण ही आज संपर्क में तेज़ी संभव हो पाई है. इंटरनेट ने हमें गूगल,...


  • शरारत करो, लेकिन संभलकर

    शरारत करो, लेकिन संभलकर

    प्रिय बच्चो, आयुष्मान, बुद्धिमान, सेवामान, अर्थात दीर्घायु बनो, बुद्धिवान बनो, सेवावान बनो. अरे भाई, आप जैसे प्यारे-प्यारे बच्चों को आशीर्वाद देने का यह हमारा तरीका है. हम जिसे पहली बार आशीर्वाद देते हैं, उसके हावभाव से यह...

  • बुद्धिमान राजा

    बुद्धिमान राजा

    .एक राज्य के लोग एक वर्ष के उपरान्त अपना राजा बदल देते थे. राजा को हटाने के दिन जो भी व्यक्तिसबसे पहले शहर में आता था तो उसे ही नया राजा घोषित कर दिया जाता था..पहले...