Category : कथा साहित्य

  • वीरवधू 

    वीरवधू 

    ‘सब्जी वाली…. सब्जी वाली… ले लो दीदी, गोभी, भिंडी, टमाटर, धनिया, मिर्च…।’ प्रत्येक रविवार को वह सायकिल से सब्जी बेचा करती । एक रविवार धनिया लेने के बहाने उनको रोका । सब्जियों के दाम पूछा, थोड़ी...

  • कहानी : बटवारा

    कहानी : बटवारा

    अरुण जी की दूरदर्शिता का हर कोई कायल था ! कोई भी समस्या हो, कैसी भी समस्या हो, सब का समाधान होता था उनके पास ! पर कहते हैं ना, वक़्त कब करवट ले कोई नहीं...

  • कथा

    कथा

    ”आंटीजी, आपने तो मेरी व्यथा को कथा में बदल दिया.” आज कमलेश ने फोन पर कहा था. ”वो कैसे भला?” आंटी का सहज-सा सवाल था. ”उस दिन आपसे मिलने के बाद मैं बहुत खुश रहने लगी...

  • लघुकथा -अंतर्मन

    लघुकथा -अंतर्मन

    मंत्रीजी विकास के घर मुशायरा था| सभी नामवर कवियों और शायरों के बारे में मंत्रीजी को बताया गया, क्योंकि मंत्रीजी कविता और शायरी के कायल थे| मंत्रीजी ने आयोजक से पूछा, “कोई बड़ा कवि छुट तो...

  • समारोह

    समारोह

    आज सुबह पार्क में सैर करते हुए सुनीता से मुलाकात हुई. उसने 23 अगस्त को शाम को 6 बजे पार्क में आकर श्री कृष्ण जन्माष्टमी समारोह में उपस्थित होकर धूम मचाने और आनंद लेने-देने का निमंत्रण...

  • तिरंगा

    तिरंगा

      रवि और उसका बेटा गुड्डू आज 15 अगस्त की छुट्टी के दिन अपनी कार में बैठकर एंजॉय करते हुए बाहर घूम रहे थे और गुड्डू जगह जगह रुककर पूरे शहर का मजा ले रहा था।...

  • कुत्ता कहीं का…

    कुत्ता कहीं का…

    वह बार-बार “हट! हट!” करती जा रही थी, लेकिन वह लगातार उसके पीछे-पीछे चल रहा था । कालोनी की इस सड़क पर काफी अँधेरा था, सो अब तो राधिका को डर लगने लगा था । उसने...

  • दाम

    दाम

    उन सबके मुख पर गुस्सा यूँ खदबदा रहा था, मानों अभी वहाँ से लावे की धार फूट पड़ेगी और मिस्टर बंसल को जला कर भस्म कर देगी । ” इसीलिए तो कहते हैं भाई साहब !...

  • चाट का ठेला

    चाट का ठेला

    “तुम सारा दिन यहाँ अपने पापा के साथ काम ही करते रहते हो या पढ़ने भी जाते हो? देखो बेटा पढ़ना-लिखना भी बहुत जरूरी है ।” “क्यों अंकल?” “पढ़ लिख कर तुम अच्छी नौकरी कर सकते...

  • अंधविश्वास की जड़ें

    अंधविश्वास की जड़ें

    उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया. इस एक मामले में पत्नी किसी तांत्रिक के कहने पर अपने पति को खाने के लिए सिर्फ लड्डू दे रही है, वह भी सुबह चार...